scorecardresearch
 

तेलंगाना के CM का ऐलान- आंदोलन में मृतक किसानों के परिवार को देंगे 3-3 लाख की मदद

तेलंगाना सरकार कृषि कानूनों के विरोध में एक साल से चल रहे आंदोलन में मारे गए लगभग 750 किसानों के परिवार को अनुग्रह राशि देगी. सरकार इस मुआवजे के लिए 22 करोड़ रुपये आवंटित कर रही है.

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तेलंगाना सरकार का बड़ा फैसला
  • कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन में मारे गए किसानों के परिवार को आर्थिक मदद
  • मृतक किसानों के परिवार को तीन-तीन लाख रुपये देगी तेलंगाना सरकार

केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानूनों को वापस लेने के ऐलान के बाद देश में किसानों पर राजनीति तेज हो गई है. पंजाब सरकार द्वारा आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों को मुआवजा देने के ऐलान के बाद अब तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने सभी मृतक किसानों के परिवार को 3-3 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने का फैसला किया है.

तेलंगाना सरकार कृषि कानूनों के विरोध में एक साल से चल रहे आंदोलन में मारे गए लगभग 750 किसानों के परिवार को अनुग्रह राशि देगी. सरकार इस मुआवजे के लिए 22 करोड़ रुपये आवंटित कर रही है.

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने केंद्र सरकार से आंदोलन में अपने लोगों को खोने वाले प्रत्येक किसान परिवार को 25 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की भी मांग की है.

इसके साथ ही उन्होंने किसानों के खिलाफ दर्ज किए गए केसों को भी वापस लेने मांग रखी है. उन्होंने बिजली (संशोधन) विधेयक को भी वापस लेने की अपील की है.

केसीआर रविवार को दिल्ली में एक प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिल सकते हैं. बता दें कि इससे पहले पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के परिवार को आर्थिक मदद देने का ऐलान किया था.  

चन्नी ने मोदी सरकार से राज्य और किसानों को संघर्ष के दौरान हुई जान-माल की क्षति की भरपाई करने की भी मांग की है. 

चन्नी ने कृषि कानून की वापसी के ऐलान के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि, जब तक कानून को संसद के जरिए खत्म नहीं कर दिया जाता हम चौकस रहेंगे.

उन्होंने बताया था कि किसान आंदोलन के दौरान मारे गए लोगों को मुआवजा भी दिया जा रहा है और ऐसे परिवारों में एक शख्स को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी. चन्नी ने आंदोलन में मारे गए लोगों की याद में स्मृति स्मारक के निर्माण का भी ऐलान किया है.

ये भी पढ़ें:

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें