scorecardresearch
 

तेलंगाना में राहुल गांधी का आक्रामक रुख- न आज, न कल, न कभी...TRS से कोई समझौता नहीं

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तेलंगाना में केसीआर पर जमकर हमला बोला. उन्होंने पार्टी नेताओं संग चर्चा करते हुए कई सुझाव दिए. राहुल ने कहा कि तेलंगाना में सरकार है लेकिन जनता नहीं है. 

X
तेलंगाना दौरे पर राहुल गांधी फाइल फोटो तेलंगाना दौरे पर राहुल गांधी फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'काम नहीं करेंगे, टिकट नहीं मिलेगा'
  • 'हमारा परिवार RSS की तरह नहीं'

कांग्रेस नेता राहुल गांधी दो दिवसीय तेलंगाना दौरे पर हैं. वहां उनके भाषणों में आक्रामक रुख देखने को मिल रहा है. कांग्रेस नेताओं को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने तेलंगाना के सपने के बारे में बोला था. जब तेलंगाना बना, तब इस प्रदेश का एक सपना था और उस सपने को केसीआर ने, एक व्यक्ति ने नष्ट किया है, तोड़ा है.

राहुल गांधी ने शुक्रवार को दिए एक भाषण की बातों को दोहराते हुए कहा, 'कल भाषण में मैंने कहा कि जिसने तेलंगाना को धोखा दिया है, उसके साथ कांग्रेस पार्टी का कोई समझौता नहीं हो सकता है. न आज, न कल, न कभी. इस चुनाव में लड़ाई टीआरएस और कांग्रेस पार्टी के बीच में है. केसीआर ने तेलंगाना को लूटा है, पैसे की कोई कमी नहीं है, पुलिस है, पूरा इस्टेब्लिशमेंट है, सरकार है, मगर जनता नहीं है और जनता से तगड़ी कोई चीज नहीं हो सकती है. 

आपको बता दें कि शुक्रवार को राहुल गांधी ने कहा था कि कांग्रेस के किसी भी नेता ने टीआरएस से पैरवी के लिए दबाव बनाया तो उसको पार्टी से निकाल दिया जाएगा चाहे वो कितना भी बड़ा क्यों न हो.

राहुल ने कहा, हमारे पास दो-तीन लक्ष्य
हमारे सामने दो-तीन लक्ष्य हैं. पहला ये है कि जो तेलंगाना, जो हमने बनाया था, तेलंगाना की जनता के साथ मिलकर हमने बनाया था, उस सपने को पूरा करने के लिए और तेलंगाना को एक मॉडल स्टेट बनाने का सपना है. चुने हुए लोगों की सरकार नही, मोनोपॉलिस्टिक सरकार नहीं, किसानों की, गरीब लोगों की, तेलंगाना के हर व्यक्ति की सरकार हम बनाना चाहते हैं. शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार पर हम फोकस करना चाहते हैं. ये हमारा लक्ष्य है, हमारा सपना है.

टिकट मैरिट के बेसिस पर मिलेंगे
लक्ष्य को पूरा करने के लिए हमारी पार्टी में युनिटी की जरूरत है. टिकट मिलेंगे, मैरिट के बेसिस पर मिलेंगे. गलतफहमी में किसी को नहीं होना चाहिए, बाद में मुझसे ये मत कहना, आज अच्छी तरह सुन लीजिए, टिकट मिलेगा, मेरिट के बेसिस पर मिलेगा, जो काम करेगा, जो जनता के बीच में रहेगा, जो किसानों की लड़ाई लड़ेगा, मजदूरों की लड़ाई लड़ेगा, छोटे व्यापारियों की लड़ाई लड़ेगा, युवाओं की लड़ाई लड़ेगा, उसको कांग्रेस पार्टी टिकट देगी.

काम नहीं करेंगे, टिकट नहीं मिलेगा
ये हमारा परिवार है, तो आपको ये नहीं लगना चाहिए कि किसी के खिलाफ भी डिस्क्रिमिनेशन होगा. काम करेंगे, रिवॉर्ड मिलेगा और चाहे कितने भी सीनियर हों, कितने भी साल की हिस्ट्री हो, काम नहीं करेंगे, टिकट नहीं मिलेगा और इंडिपेडेंट फीडबैक लेकर, ग्राउंड फीडबैक लेकर टिकट मिलेगा. मतलब, तेलंगाना की जनता, जिसको चाहती है, तेलंगाना की जनता के पास जो रहता है, काम जो करता है, उसको कांग्रेस पार्टी रिवॉर्ड करेगी.

पहला माइलस्टोन वारंगल डिक्लेरेशन
पहला माइलस्टोन कांग्रेस पार्टी के नेताओं के लिए वारंगल डिक्लेरेशन. आपका पहला काम तेलंगाना के हर एक व्यक्ति को, हर एक किसान को, वारंगल डिक्लेरेशन के बारे में समझाना, बताना, ये आपका पहला काम है. ये सिर्फ एक डिक्लेरेशन नहीं है, ये एक पार्टनिरशिप है. कांग्रेस पार्टी के बीच में और तेलंगाना के किसान के बीच में, एक पार्टनरशिप है, ये कांग्रेस पार्टी की गारंटी है.

डीटेल में वारंगल डिक्लेरेशन के बारे में समझाएं
ये अगले महीने का काम है आपका, आपकी कॉन्स्टीट्यूएंसी में आपके एरिया में सबको डीटेल में वारंगल डिक्लेरेशन के बारे में समझाना, किसानों को बताना कि ये एक डिक्लेरेशन नहीं है, ये एक पार्टनरशिप है, ये कांग्रेस पार्टी की गारंटी है और तेलंगाना के हर व्यक्ति को, अगर आपने 12 साल के बच्चे को पूछा, कल मैं आऊँगा, 12 साल के बच्चे से पूछा- भईया, ये वारंगल डिक्लेरेशन है क्या, तो उसके सब प्वाइंट्स 12 साल के बच्चे को मुझे बता देने चाहिए.

हमारा परिवार RSS की तरह नहीं
मैंने कहा- ये परिवार है, परिवार में अलग व्यूज होते हैं. हमारा आरएसएस वाला परिवार नहीं है, जहाँ एक व्यक्ति पूरा का पूरा डिसाइड कर देता है, हमारा दूसरा तरीका है. हम सबकी आवाज सुनना चाहते हैं, मगर मीडिया में नहीं, बंद कमरों में, जैसे परिवार बात करता है, वैसे. शिकायत है, कंप्लेंट है, हमारा इंटरनल सिस्टम हैं, उस सिस्टम में जितनी भी आपने बात बोलनी है, खुलकर बोलिए है. मगर, अगर कोई मीडिया में जाकर बाहर बोलता है, तो वो कांग्रेस पार्टी को डैमेज कर रहा है. वो हम एक्सेप्ट नहीं करने वाले हैं. कल एक बहुत सक्सेसफुल मीटिंग, बहुत सक्सेसफुल मीटिंग हुई और ये आप सबका काम है. पूरी कांग्रेस पार्टी ने अपनी शक्ति डाली और उसका रिजल्ट, उसका नतीजा आपने देखा. तो मैं आप सबको बधाई देना चाहता हूं.

कांग्रेस पार्टी में आइए
इस प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के बाहर बहुत सारे युवा हैं, बहुत सारे नेता हैं, बहुत सारे हमारे पुराने वर्कर हैं, जो कांग्रेस की विचारधारा को मानते हैं, समझते हैं और चाहते हैं. हमें उन लोगों के लिए कांग्रेस पार्टी के दरवाजे खोलने चाहिए. उन सबको मैं इनवाइट करता हूं कि आप कांग्रेस पार्टी में आइए, आप हमारी विचारधारा को मानते हैं, आप अंदर आओ और हमारे साथ मिलकर केसीआर और टीआरएस से लड़ो और तेलंगाना के युवाओं आपने पिछले आठ साल देखे, आपने तेलंगाना का जो सपना था, उसको नष्ट होते देखा. आपने तेलंगाना की जो लूट की गई, उसको देखा, आपका जो पैसा, आपकी जेब से निकाल लिया गया, आपके भविष्य को नष्ट किया गया, आपने देखा. आपको स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, अस्पताल नहीं मिले और जो पैसा आपको मिलना था, वो एक परिवार को मिला. ये कांग्रेस पार्टी की जिम्मेदारी है, मगर ये तेलंगाना के युवाओं की भी जिम्मेदारी है कि टीआरएस को तेलंगाना से हटाया जाए.

युवाओं के लिए दरवाजा खुला
तो मैं आपको भी इनवाइट करता हूं, तेलंगाना के युवा को कि आप कांग्रेस पार्टी में आइए और तेलंगाना को बदलने का काम कीजिए. सोनिया जी ने आपके साथ तेलंगाना का सपना देखा था और सोनिया जी ने स्टेटहुड आपको दिया और कांग्रेस पार्टी को नुकसान हुआ. मगर हम आपके साथ खड़े रहे, क्योंकि आपकी लड़ाई सच्चाई की लड़ाई थी. मैं तेलंगाना की जनता के साथ आपके सपने को पूरा करना चाहता हूं और इसलिए जहाँ भी मेरी जरुरत हो, जहाँ भी आप मुझे भेजना चाहते हैं, आप मुझे बुलाओ और मैं हाजिर हो जाऊँगा.

विधानसभा में जाइए, दिल्ली मत आइए
अंत में फिर से दोहराना चाहता हूं कि टिकट मेरिट के बेसिस पर मिलेगा, हैदराबाद में बैठकर नहीं मिलेगा. ये गलती मत कीजिए, हैदराबाद में मत बैठिए, दिल्ली बिल्कुल मत आइए, वो बैक फायर करता है, उल्टा जाता है. दिल्ली तो छोड़ दीजिए, हैदराबाद छोड़ दीजिए, कॉन्स्टिट्यूएंसी जाइए, गांव में जाइए, सड़कों पर उतरिए और काम कीजिए. आप सब बड़े कैपेबल लोग है, कोई कमी नहीं है. टिकट आपको जनता देगी. तो आपको उधर जाना है.

मैं जानता हूं कि हैदराबाद में बिरयानी बहुत अच्छी है, बिरयानी बहुत अच्छी मिलती है, मगर अब आपको हैदराबाद छोड़ना पड़ेगा, गांव में, सड़कों पर जाना पड़ेगा. जनता के साथ आप खड़े होंगे, कांग्रेस पार्टी चुनाव जीतेगी और यहाँ पर तेलंगाना को बदलने का काम शुरु होगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें