scorecardresearch
 

अनुच्छेद 370 खत्म करने से कश्मीर विकास की नई रफ्तार पकड़ेगा: योगी आदित्यनाथ

राज्यसभा के बाद लोकसभा से भी जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल को मंजूरी मिलने पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को बधाई दी है. साथ ही कहा कि अब कश्मीर में विकास होगा.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

राज्यसभा के बाद लोकसभा से भी जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल को मंजूरी मिलने पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को बधाई दी है. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के बारे में लिया गया निर्णय जम्मू कश्मीर के साथ-साथ लद्दाख के विकास के लिए नया क्रांतिकारी कदम है. अनुच्छेद 370 खत्म हो जाने के बाद अब कश्मीर विकास की नई रफ्तार पकड़ेगा. वहां की माताओं, बहनों, नौजवानों, वनवासियों, अनुसूचित जाति, जनजाति और अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के लिए यह एक बहुत बड़ी सौगात साबित होगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह अगले 5 सालों में कश्मीर को विकास के नए मॉडल के रूप में प्रस्तुत करेंगे. इस कदम से बाबा भीमराव अंबेडकर, श्यामा प्रसाद मुखर्जी और देश के स्वतंत्रता सेनानियों की भावनाओं का सम्मान किया गया है. उन्होंने कहा कि अगर आतंकवाद की समस्या का समाधान करना है तो जम्मू कश्मीर के युवाओं, किसानों और समाज के विभिन्न तबकों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ कर उनके सर्वांगीण विकास का मार्ग प्रशस्त करना है. इसके लिए अनुच्छेद 370 का खत्म होना जरूरी था. कश्मीर के व्यापक हित को ध्यान में रखकर ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से उनके मार्गदर्शन में ऐतिहासिक कदम उठाया गया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने नकारात्मक राजनीति से देश को गुमराह करने का प्रयास किया है. एक गलती जो 1952 में हुई, एक गलती जो 1954 में कांग्रेस के तत्कालीन नेतृत्व ने की थी, उस गलती से वे आज भी नहीं उभर पा रहे हैं. मुख्यमंत्री ने उन सभी दलों का और सभी सांसदों का अभिनंदन किया जिन्होंने इस ऐतिहासिक फैसले का स्वागत किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें