scorecardresearch
 

अमित शाह ने की जम्मू कश्मीर में सुरक्षा की समीक्षा, दिए जरूरी निर्देश

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया है. राज्यसभा के बाद लोकसभा में भी इसे पास कर दिया गया. वहीं सूत्रों का कहना है कि इसके बाद गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर में सुरक्षा हालात की समीक्षा की.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फाइल फोटो) केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फाइल फोटो)

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया है. राज्यसभा के बाद लोकसभा में भी इसे पास कर दिया गया. वहीं सूत्रों का कहना है कि इसके बाद गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर में सुरक्षा के हालात की समीक्षा की.

अमित शाह ने निर्देश दिए कि जम्मू कश्मीर में आम आदमी को किसी भी तरह की कठिनाई का सामना नहीं करना चाहिए. उन्होंने कहा कि आवश्यक भोजन, जरूरी सामनों की आपूर्ति, आपातकालीन सहायता लोगों को उपलब्ध होनी चाहिए. सूत्रों का कहना है कि जम्मू कश्मीर में स्थानीय आबादी के सहयोग और समर्थन के कारण कोई अप्रिय घटना संभव नहीं हुई.

इस मुद्दे पर लोकसभा में बहस के दौरान अमित शाह ने कहा कि 370 ने हमेशा पाकिस्तान को भारत के खिलाफ उकसाने का मौका दिया, आप सोचिए कि इससे अब तक क्या मिला. उन्होंने कहा कि यह कानून घाटी के लोगों को अपने नजदीक ला पाएंगे और वहां विकास के नए रास्ते खुलेंगे.

अमित शाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर पृथ्वी का स्वर्ग था, है और रहेगा. गृह मंत्री ने कहा कि अटलजी पूरे जीवन 370 के खिलाफ लड़े हैं और जेल भी गए थे. आज अटलजी की पार्टी के ही नरेंद्र मोदी को पूर्ण बहुमत मिला और आज 370 हट रहा है. उन्होंने कहा कि लोहिया जी ने 370 को भारत और कश्मीर को अलग करने वाले अनुच्छेद बताते हुए इसे हटाने की अपील इसी सदन में की थी, क्या वो सेक्युलर नहीं थे.

बता दें कि संसद ने मंगलवार को जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा संबंधी अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने के प्रस्ताव संबंधी संकल्प और जम्मू कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख में विभाजित करने वाले विधेयक को मंजूरी दे दी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें