scorecardresearch
 

आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद की वेबसाइट हैक, तकनीकी टीम ने किया सुधार

हैकिंग की यह घटना आईटी मंत्री के साथ हुई है, लिहाजा साइबर सुरक्षा को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं. हालांकि आंकड़े बताते हैं कि इस तरह के अपराध में पहले की तुलना में कमी आई है.

X
रविशंकर प्रसाद की फाइल फोटो
रविशंकर प्रसाद की फाइल फोटो

  • तकनीकी टीम ने किया वेबसाइट में सुधार
  • रविवार सुबह 11 बजे घटना की जानकारी मिली

केंद्रीय कानून और न्याय व आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद की वेबसाइट हैक होने की खबर है. रविवार सुबह करीब 11 बजे इसका पता चला. हैक होने की जानकारी मिलने के बाद तकनीकी टीम इसे वापस संचालित करने में जुटी और इसमें सुधार कर लिया गया. रविशंकर प्रसाद की वेबसाइट http://www.ravishankarprasad.in है.

हैकिंग की यह घटना आईटी मंत्री के साथ हुई है, लिहाजा साइबर सुरक्षा को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं. हालांकि आंकड़े बताते हैं कि इस तरह के अपराध में पहले की तुलना में कमी आई है. पिछले साल दिसंबर में लोकसभा में एक सवाल के जवाब में खुद इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम (सीईआरटी-इन) की ओर से ट्रैक की गई जानकारी के अनुसार, इस साल (2019) अक्टूबर तक 48 वेबसाइटों को हैक किया गया था . जबकि 2018 में 110, 2017 में 172 और 2016 में 199 हैक करने की घटनाएं हुई थीं. इन मामलों में केंद्रीय मंत्रालयों या विभागों के साथ-साथ राज्य सरकारों की वेबसाइटें भी शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: केजरीवाल का ऐलान-दिल्ली में खोली जाएंगी दुकानें, लेकिन कोई मार्केट या मॉल नहीं

बता दें, साइबर सुरक्षा से जुड़े मामलों की जागरुकता के लिए नियमित तौर पर साइबर सिक्योरिटी मॉक ड्रिल कराए जाते हैं. CERT-In की ओर से अब तक 40 से ज्यादा मॉक ड्रिल कराए जा चुके हैं. इस मॉक ड्रिल में वित्त, रक्षा, बिजली, दूरसंचार, परिवहन, ऊर्जा, अंतरिक्ष, आईटी/आईटीईएस जैसे राज्यों और सेक्टर्स के संगठनों के 265 संगठन शामिल रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें