scorecardresearch
 

श‍श‍ि थरूर ने कहा- 'भारत माता की जय' बोलने के लिए किसी से जबदस्ती नहीं कर सकते

हम किसी से जोर जबरदस्ती भारत माता की जय का नारा लगाने के लिए नहीं कह सकते. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पारित हुए राजनीतिक प्रस्ताव पर टिप्पणी करते हुए ये बातें कही.

X
भारत माता की जय कहने से कुछ लोगों को ऐतराज भारत माता की जय कहने से कुछ लोगों को ऐतराज

हम किसी से जोर जबरदस्ती भारत माता की जय का नारा लगाने के लिए नहीं कह सकते. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पारित हुए राजनीतिक प्रस्ताव पर टिप्पणी करते हुए ये बातें कही. बीजेपी ने अपने प्रस्ताव में कहा था कि भारत माता की जय कहने से इनकार करना अपने आप में संविधान का अपमान करने जैसा है.

कुछ लोगों को भारत माता की जय से दिक्कत
थरूर ने कहा कि इस बारे में समझने की जरूरत है. भारत के बारे में किसी को ऐतराज नहीं है. लोग भारत माता की जय कहने पर सवाल कर रहे हैं. मेरे लिए भारत माता हो सकती है. कुछ और लोगों के लिए भी भारत माता सम्मान के लायक हैं. हिंदुओं और मुसलमानों में बड़ी आबादी को इससे कोई दिक्कत नहीं, लेकिन कुछ मुसलमानों को दिक्कत होती है.

हिंदू देवी की तरह हैं भारत माता
उन्होंने कहा कि कुछ मुसलमानों को भारत माता हिंदू देवी की तरह लगती हैं. हिंदू संगठनों ने भारत माता की तस्वीर भी देवी जैसी बनाई है. सिंह पर सवार छह भुजाओं वाली देवी. उनकी पूजा भी करते हैं. इससे मुसलमानों को दिक्कत होती है. उनका कहना है कि जय हिंद बोलेंगे, हिंदुस्तान जिंदाबाद बोलेंगे लेकिन हमें भारत माता की जय बोलने मत कहिए. हमारा लोकतंत्र और संविधान उन्हें भारत माता की जय कहने या नहीं कहने की आजादी देता है. हमें इसका सम्मान करना चाहिए.

चुप रहने का भी अधिकार
कांग्रेस सांसद ने कहा कि संविधान हमें बोलने की आजादी का अधिकार देता है. ठीक उसी तरह चुप रहने का अधिकार भी देता है. हम कोई शब्द किसी के मुंह में नहीं डाल सकते.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें