scorecardresearch
 

SIT ने उमर शरीफ को किया गिरफ्तार, मंसूर खान और IMA के लिए करता था प्रचार

पुलिस ने बेंगलुरु से उमर शरीफ को गिरफ्तार किया है. पुलिस उपायुक्त के मुताबिक उमर आईएमए और मंसूर खान के लिए पिछले 5 साल से प्रचार कर रहा था. फिलहाल उमर को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

उमर शरीफ (फोटो-एएनआई) उमर शरीफ (फोटो-एएनआई)

पुलिस ने बेंगलुरु से उमर शरीफ को गिरफ्तार किया है. पुलिस उपायुक्त के मुताबिक उमर आईएमए और मंसूर खान के लिए पिछले 5 साल से प्रचार कर रहा था. फिलहाल उमर को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

पुलिस उपायुक्त (क्राइम) गिरीश एस के मुताबिक, 'एसआईटी ने बन्नेरुघट्टा रोड, बेंगलुरु से 42 वर्षीय उमर शरीफ को गिफ्तार किया है. शरीफ यहां पर अल बशीर नाम से एक स्कूल चला रहा था. यह आईएमए और मंसूर खान के लिए पिछले 5 साल से प्रचार भी कर रहा था. फिलहाल शरीफ को 22 जुलाई तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.'

कौन है मंसूर खान

बेंगलुरु के चर्चित आईएमए (I Monetary Advisory) पोंजी घोटाले का फरार मुख्य आरोपी मंसूर खान है. मंसूर खान पर अरबों रुपये की धोखाधड़ी का आरोप है. आईएमए ने अपनी स्कीम में 14 से 18 फीसदी के भारी रिटर्न का लालच देकर हजारों निवेशक को धाखा दिया था, जिसके बाद करीब  25 हजार लोगों ने धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस ने आईएमए जयनगर के दफ्तर में और मंसूर खान के घर में छापा मारा था. जिसमें करोड़ों रुपये की ज्वैलरी और दस्तावेज जब्त किए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें