scorecardresearch
 

PM मोदी ने नवाज शरीफ से कहा- हम यूरोप के नेताओं जैसे क्यों नहीं बन सकते, जारी रहेगी वार्ता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को पाकिस्तान गए थे और वहां के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की नवासी के दावत-ए-वलीमा में शरीक हुए थे. यहां मोदी और शरीफ के बीच तय हुआ कि परिस्थितियां चाहे जो भी हों, दोनों के बीच बातचीत बंद नहीं होगी.

X
मोदी और शरीफ के बीच नहीं रुकेगी बातचीत मोदी और शरीफ के बीच नहीं रुकेगी बातचीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब शुक्रवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मिले थे, तो उन्होंने शरीफ को सबसे पहली बात कही थी, 'हम यूरोप के नेताओं की तरह क्यों नहीं बन सकते, जो कैजुअल गेट-टुगेदर और चैट्स में एक-दूसरे से मिलते हैं?'

नहीं रुकेगी बातचीत
एक सूत्र ने बताया कि मोदी की बात पर शरीफ ने भी सहमति जताई और तय किया है कि विपरीत परिस्थितियों के बावजूद दोनों के बीच इस तरह की मुलाकात बंद नहीं होगी. मोदी और शरीफ ने कहा कि वो इस उच्च स्तरीय बातचीत को बनाए रखने की भरपूर कोशिश करेंगे.

एनएसए वार्ता भी होगी मजबूत
मोदी और शरीफ के बीच इस बात पर भी सहमति बनी कि दोनों देशों के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार स्तर की वार्ता भी मजबूत बनेगी. दोनों नेताओं ने फैसला किया कि खराब से खराब परिस्थिति में भी एनएसए एक-दूसरे के संपर्क में रहें.

सरताज अजीज का बयान
पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने कहा है कि अगले महीने पाक में होने वाली पाकिस्तान और भारत के विदेश सचिवों की बातचीत से ज्यादा उम्मीदें रखना सही नहीं होगा. अजीज ने कहा कि पाकिस्तान और भारत के बीच जनवरी में होने वाली समग्र वार्ता में कश्मीर सहित सभी प्रमुख मुद्दों पर ध्यान दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि शुक्रवार को लाहौर में दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच हुई बैठक में फैसला लिया गया कि दोनों देशों के विदेश सचिव सभी मुद्दों पर बातचीत के ब्यौरे तय करने के लिए मध्य जनवरी में बैठक करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें