scorecardresearch
 

स्वामी ने ट्वीट किया कसीनो में रजनीकांत का फोटो, लिखा- पैसे कहां से आए

बुधवार की रात तकरीबन साढ़े आठ बजे सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट किया कि रजनीकांत यूएस के कसीनो में जुआ खेलकर अपनी हेल्थ सुधार रहे हैं. गौरतलब है कि रजनीकांत के अस्वस्थ होने और अमेरिका में इलाज कराने की खबरें थीं. स्वामी ने इसी पर चुटकी लेते हुए ये ट्वीट किया. खास बात ये है कि स्वामी ने रजनीकांत को आरके 420 लिखा है.

स्वामी का रजनीकांत पर निशाना... स्वामी का रजनीकांत पर निशाना...

सुपरस्टार रजनीकांत के राजनीति में आने की खबरों के बीच बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने इस अभिनेता पर हमला बोला है. स्वामी ने एक ट्वीट किया है जिसमें उनका दावा है कि रजनीकांत अमेरिका के कसीनो में जुआ खेलते नजर आ रहे हैं. स्वामी ने रजनीकांत के खिलाफ जांच की मांग भी की है.

बुधवार की रात तकरीबन साढ़े आठ बजे सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट किया कि रजनीकांत यूएस के कसीनो में जुआ खेलकर अपनी हेल्थ सुधार रहे हैं. गौरतलब है कि रजनीकांत के अस्वस्थ होने और अमेरिका में इलाज कराने की खबरें थीं. स्वामी ने इसी पर चुटकी लेते हुए ये ट्वीट किया. खास बात ये है कि स्वामी ने रजनीकांत को आरके 420 लिखा है.

 

अपने इसी ट्वीट में स्वामी ने प्रवर्तन निदेशालय से भी मांग की है कि वो रजनीकांत की जांच करे और पता लगाए कि उनके पास इतना पैसा आखिर आया कहां से.

गौरतलब है कि रजनीकांत के राजनीति में आने की खबरें पिछले कुछ समय से गर्म हैं. माना जा रहा है कि वो बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. खुद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आजतक के एक कार्यक्रम में जब रजनीकांत के बीजेपी में शामिल होने के बारे में पूछा था तो उन्होंने इससे इनकार नहीं किया था. साथ ही कहा था कि हर अच्छे व्यक्ति का बीजेपी में स्वागत है.

एक ओर जहां बीजेपी रजनीकांत को पार्टी में शामिल कराने में जुटी है, वहीं बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी लगातार उनके खिलाफ हमलावर हैं. वो रजनीकांत को श्रीमान 420 तक कहते रहे हैं. स्वामी से जब रजनीकांत के फैन ने उनके इस ट्वीट को लेकर सवाल किए तो उन्होंने उसका भी जवाब दिया और पूछा कि अगर रजनीकांत के पास वाकई इतना पैसा है तो उन्हें भारत में ही इलाज कराना चाहिए था. क्या वो जो खर्च कर रहे हैं उसका पेमेंट चेक से करेंगे.

जब एक यूजर ने स्वामी से पूछा कि अगर विदेश जाना इतना ही गलत है तो वो खुद क्यों हॉर्वर्ड गए थे इसके जवाब में उन्होंने लिखा कि मैं स्कॉलरशिपर पर गया था और दो नोबल लेक्चरर के अधीन मेरी रिसर्च हुई. चूंकि रजनीकांत के फैन ज्यादातर अनपढ़ हैं इसलिए वो ये बात नहीं मानेंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें