scorecardresearch
 

राजीव कुमार ने जांच में सहयोग के लिए मांगा वक्त, सीबीआई ने ठुकराया

शारदा चिटफंड मामले में कोलकाता के पूर्व पुलिस क​मिश्नर राजीव कुमार सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए. सूत्रों का कहना है कि राजीव कुमार ने ई-मेल के जरिए सीबीआई से जांच में शामिल होने के लिए समय मांगा है, जिसे सीबीआई ने अभी तक स्वीकार नहीं किया है.

कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार (फाइल फोटो) कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार (फाइल फोटो)

शारदा चिटफंड मामले में कोलकाता के पूर्व पुलिस क​मिश्नर राजीव कुमार सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए. सूत्रों का कहना है कि राजीव कुमार ने ई-मेल के जरिए सीबीआई से जांच में शामिल होने के लिए समय मांगा है, जिसे सीबीआई ने अभी तक स्वीकार नहीं किया है.

सूत्रों का कहना है कि सीबीआई अब राजीव कुमार को जांच में शामिल होने के लिए एक और नोटिस जारी कर सकती है. इसके अलावा सीबीआई अब राजीव कुमार के खिलाफ गैर-जमानती वांरट के लिए कोर्ट भी जा सकती है.

शुक्रवार को सीबीआई ने राजीव कुमार को नोटिस दिया था. इसमें उनसे पूछताछ के लिए शनिवार को सुबह 10 बजे सीबीआई के समक्ष पेश होने को कहा था. लेकिन वो सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए. राजीव कुमार पश्चिम बंगाल के एडीजी (सीआईडी) पद पर तैनात हैं, लेकिन फिलहाल को छुट्टी पर चल रहे हैं.

राजीव कुमार के पेश नहीं होने पर जांच एजेंसी का कहना है कि वह पेश नहीं हुए और उनका फोन भी स्विच ऑफ जा रहा है. इसके बाद सीबीआई हरकत में आई और उनसे एयरपोर्ट के अधिकारियों को भी सतर्क रहने के लिए कहा है. इससे पहले कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई के लिए कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर की गिरफ्तारी का रास्ता साफ हो गया था. कोर्ट के आदेश के बाद जांच एजेंसी तुरंत हरकत में आ गई थीं.

क्या है आरोप

राजीव कुमार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी करीबी माना जाता है. राजीव कुमार पर सीबीआई ने आरोप लगाया है कि चिंट फंड घोटाला मामले में जो राजीव कुमार ने सबूतों के साथ छेड़छाड़ की. राजीव कुमार घोटाले की जांच कर रही सीआईटी के प्रमुख थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें