scorecardresearch
 

राहुल का बीजेपी नेताओं पर निशाना, बोले- इनको गुजरात, एमपी में नहीं दिखता भ्रष्‍टाचार

कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी ने शनिवार को कर्नाटक के बेलगाम में बीजेपी को आडे़ हाथों लेते हुए कहा कि इन्‍हें गुजरात, छत्‍तीसगढ़ और मध्‍य प्रदेश में भ्रष्‍टाचार नहीं दिखाई देता.

रैली को संबोधित करते राहुल गांधी रैली को संबोधित करते राहुल गांधी

कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी ने शनिवार को कर्नाटक के बेलगाम में बीजेपी को आडे़ हाथों लेते हुए कहा कि इन्‍हें गुजरात, छत्‍तीसगढ़ और मध्‍य प्रदेश में भ्रष्‍टाचार नहीं दिखाई देता.

विपक्षी पार्टी बीजेपी पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि बीजेपी का सीएम भ्रष्‍टाचार के लिए जेल में गया. उनको यह नहीं दिखता. बीजेपी को छत्‍तीसगढ़, मप्र और कर्नाटक में भ्रष्‍टाचार नहीं दिखा. कर्नाटक में जनता ने भ्रष्‍टाचार के कारण बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंका. इनके प्रदेशों में चोरी हो जाए तो इन्‍हें नहीं दिखाई देता. जहां इनकी सरकार नहीं हैं वहीं इन्‍हें भ्रष्‍टाचार दिखाई देता है.

राहुल ने रैली में कहा कि यहां जो महिलाएं बैठीं हैं, हम चाहते हैं कि इनके घर का कोई भी बंदा भूखा न रहे. कांगेस की नीति हमेशा सबको साथ लेकर चलने की रही है. उन्‍होंने कहा कि सारा काम हम करते हैं, लेकिन क्रेडिट ले जाती है बीजेपी.

अपनी सरकार का बखान करते हुए राहुल ने कहा कि कांग्रेस ने सिर्फ करोड़ों लोगों को रोजगार दिया है. कांग्रेस ने ही गरीबों की लड़ाई लड़ी है. हमें ऐसा हिंदुस्‍तान चाहिए जहां हर सोच की इज्‍जत हो.

महिला आरक्षण बिल पारित कराने में विफल रहने का मलाल
उधर, कोच्चि में संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस बात पर खेद व्यक्त किया कि आमसहमति के अभाव में लोकसभा में महिला आरक्षण विधेयक पारित नहीं हो सका. सोनिया ने कहा, लोकसभा चुनाव करीब आने के साथ मुझे इस बात पर बड़ा खेद है कि आमसहमति के अभाव में महिला आरक्षण विधेयक लोकसभा में पारित नहीं हो सका, हालांकि यह राज्यसभा में पारित हो गया था.

सोनिया ने 'निर्भया केरल सुरक्षिता केरल कार्यक्रम' को पेश करते हुए यह बात कही, जो महिलाओं एवं बच्चों के खिलाफ अपराध पर लगाम लगाने की सरकार-समाज की एक पहल है. उन्होंने कहा, यह हम सबके लिए गहरे क्षोभ का विषय है कि देश के कई हिस्सों में महिलाओं को परेशान किया जाना जारी है. मुंबई और दिल्ली में जो शर्मनाक घटना घटी, उसके बारे में मुझे आपको याद दिलाने की जरूरत नहीं है. यह चिंता का विषय है कि ऐसी चीजें बार बार हो रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें