scorecardresearch
 

नेपाली पीएम से मिले नरेंद्र मोदी, थोड़ी देर में संसद को करेंगे संबोधित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिनों के दौरे पर नेपाल पहुंचे हैं. 17 साल बाद ये पहला मौका है जब भारत के प्रधानमंत्री नेपाल के दौरे पर गए हैं.

X
जीत बहादुर और उसके परिवार वालों के साथ नरेंद्र मोदी जीत बहादुर और उसके परिवार वालों के साथ नरेंद्र मोदी

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाली पीएम सुशील कोइराला से काठमांडू में मुलाकात की है. थोड़ी देर में वो नेपाल के संसद पहुंचेंगे जहां वो स्पीकर और विपक्ष के नेता से मुलाकात करेंगे. इसके बाद मोदी नेपाल के संसद को संबोधित करेंगे.

इससे पहले, दो दिनों के दौरे पर आज नेपाल पहुंचे मोदी का भव्‍य स्‍वागत किया गया. नेपाल के प्रधानमंत्री सुशील कोइराला ने काठमांडू के त्रिभुवन एयरपोर्ट पर मोदी की अगुवाई की. इस दौरान नेपाली मंत्रिमंडल के सदस्‍य और सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस मौजूद थे. हवाई अड्डे पर नेपाल के उप प्रधानमंत्री बाम देव गौतम और प्रकाश मान सिंह भी मौजूद थे. मोदी को 19 तोपों की सलामी दी गई. मोदी को हवाई अड्डे पर ही रंगारंग समारोह में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया और इस मौके पर भारत और नेपाल के राष्ट्रगान बजाए गए.

पीएम मोदी के साथ जीत बहादुर भी नेपाल गया है. मोदी ने 'धर्मपुत्र' जीत बहादुर को नेपाल में उसके माता-पिता से मिलवाया.  (फोटो: जीत बहादुर के परिवार वालों से मिलते नरेंद्र मोदी)

हवाई अड्डे से होटल के बीच 10 मिनट के सफर के दौरान सड़कों पर लोग बड़ी संख्या में देखे गए. ये लोग झंडे लहरा रहे थे और अपने कैमरों एवं मोबाइल फोन से तस्वीरें ले रहे थे. नेपाल में मोदी के दौरे के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी किए गए हैं. 17 साल बाद ये पहला मौका है जब भारत के प्रधानमंत्री नेपाल के दौरे पर गए हैं. (फोटो: काठमांडू में नरेंद्र मोदी को देखने के लिए उमड़ी भीड़)

 (फोटो: काठमांडू में त्रिभुवन एयरपोर्ट पर मोदी का स्‍वागत)

काठमांडू में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा
इस बीच, काठमांडू छावनी में बदल गया है. एसपीजी के कमांडो काठमांडू पहुंच गए हैं जबकि नेपाली फौज चप्पे-चप्पे पर तैनात है. नेपाल सरकार ने काठमांडू में दो दिन की छुट्टी का भी ऐलान किया है. आसमान में नेपाली एयरफोर्स के हेलिकॉप्टरों का बेड़ा सबसे बड़े और सबसे कड़े सुरक्षा मिशन पर लगातार उड़ान भर रहे हैं. 3 अगस्त को प्लेन उतरने से लेकर वापसी की उड़ान भरने तक मोदी के इर्द-गिर्द चार लेवल का अभेद सुरक्षा घेरा मौजूद रहेगा. मोदी के सबसे करीब दिल्ली से गई एसपीजी की तगड़ी टीम होगी, करीब 20 कमांडो वाला ये ग्रुप अपने पूरे साजोसामान के साथ पहले ही काठमांडू कूच कर चुका है.

पढ़ें, राजनीति और रिश्तों की उलझी गांठ सुलझाने नेपाल के दौरे पर मोदी

सुरक्षा के दूसरे स्तर पर नेपाली आर्मी के जांबाज कमांडो को तैनात किया गया है. सबसे आधुनिक हथियारों से लैस करीब सौ से ज्यादा कमांडो अपनी हिम्मत और हमले को लेकर दुनिया भर में मशहूर हैं. मोदी की सिक्योरिटी का तीसरा घेरा नेपाल की एंटी टेरेरिस्ट पुलिस के हवाले होगा. नेपाल में डी कंपनी समेत दूसरे अंडरवर्ल्ड गुटों की मौजूदगी की खबरों के बीच तीसरे स्तर की ये सुरक्षा काफी अहम हो जाती है. मोदी के सुरक्षा घेरे में चौथी कमान नेपाली पुलिस संभालेगी, जिसके जिम्मे उन इलाकों की चप्पे-चप्पे की तगड़ी निगरानी होगी, जहां जहां से मोदी का काफिला गुजरेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें