scorecardresearch
 

LoC पर जवानों के साथ पीएम मोदी ने मनाई दिवाली, कहा- आप मेरे परिवार की तरह

प्रधानमंत्री ने यहां ये भी कहा कि उन्हें जवानों के बीच नई ऊर्जा मिलती है. यहां उन्होंने जवानों के बलिदान और जज्बे की भी प्रशंसा की.

फाइल फोटो फाइल फोटो

आज पूरा देश दिवाली का पर्व मना रहा है. हर तरफ जश्न का माहौल है. इस मौके पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को दिवाली की बधाई दी हैं. वहीं पीएम मोदी जवानों के साथ दिवाली मनाने एलओसी पर जम्मू-कश्मीर के गुरेज सेक्टर पहुंचे. यहां उन्होंने जवानों के साथ दो घंटे बिताए और उनके साथ दिवाली मनाई.

पीएम मोदी ने जवानों को मिठाई खिलाकर दिवाली मनाई. पीएम ने जवानों को संबोधित करते हुए कहा, 'सभी की तरह मैं भी परिवार के साथ दिवाली मनाना चाहता हूं और सभी जवान मेरे परिवार की तरह हैं'.

जवानों के बीच आकर मिलती है ताकत

प्रधानमंत्री ने यहां ये भी कहा कि उन्हें जवानों के बीच नई ऊर्जा मिलती है. यहां उन्होंने जवानों के बलिदान और जज्बे की भी प्रशंसा की.उन्होंने कहा कि उन्हें बताया गया है कि यहां मौजूद जवान नियमित रूप से योगाभ्यास करते हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे उनकी योग्ताएं बढ़ेंगी और शांति भी मिलेगी. उन्होंने कहा कि कि सेना में अपनी सेवाएं पूरी करने के बाद जवान बेहतरीन योग प्रशिक्षक बन सकते हैं.

प्रधानमंत्री ने जवानों को इनोवेशन के लिए प्रोत्साहित किया, जिससे उनके नियमित कार्य और ड्यूटी आसान तथा सुरक्षित बन सकें. उन्होंने जिक्र किया कि सेना दिवस, नौसेना दिवस और वायु सेना दिवस पर अब बेहतरीन नवोन्मेषों की पहचान की जा रही है और उन्हें पुरस्कृत किया जा रहा है. मोदी ने कहा कि केंद्र हर संभव तरीके से सशस्त्र बलों के कल्याण और बेहतरी के लिए प्रतिबद्ध है.

इस क्रम में उन्होंने वन रैंक वन पेंशन को लागू किए जाने का जिक्र किया जो दशकों से लंबित था. प्रधानमंत्री ने कहा कि अपने करीब लोगों से दूर रहकर, मातृभूमि की रक्षा करना, बलिदान की सर्वोच्च परंपरा का निर्वहन करना, बहादुरी और समर्पण के प्रतीक हैं.

वहीं प्रधानमंत्री ने विजिटर्स बुक में लिखा कि उन्हें जवानों के साथ दिवाली का त्योहार मनाने का मौका मिला. त्योहार के इस अवसर पर, सीमा पर बहादुर सैनिकों की उपस्थिति उम्मीदों का दीप जलाती है और करोड़ों भारतीयों के बीच नई ऊर्जा जगाती है. उन्होंने कहा, 'न्यू इंडिया के सपने को पूरा करने के लिए, हम सबके लिए मिलकर काम करने का यह सुनहरा अवसर है. सेना भी इसका एक हिस्सा है.'

पहले भी सरहद पर मनाई है दिवाली

इससे पहले, प्रधानमंत्री बनने के बाद 2014 में उन्होंने अपनी दिवाली सियाचिन में सेना के जवानों के साथ मनाई थी. इसके बाद 2015 में डोगराई वार मेमोरियल पर पीएम मोदी ने जवानों के साथ दिवाली का त्योहार मनाया था. जबकि पिछले साल यानी 2016 में दिवाली के मौके पर प्रधानमंत्री हिमाचल प्रदेश में आईटीबीपी जवानों के बीच गए थे.

राष्ट्रपति ने भी दी बधाई

राष्ट्रपति कोविंद ने ट्वीट कर देशवासियों को दिवाली की शुभकामनाएं दीं. उन्होंने लिखा, 'सभी देशवासियों को दिवाली की शुभकामनाएं. दूसरों के प्रति संवेदना और पर्यावरण के प्रति सजगता के साथ हम दीपोत्सव मनाएं'. वहीं पीएम मोदी ने भी इस पावन पर्व पर देशवासियों को बधाई दीं. पीएम ने भी ट्वीट कर सबको मुबारकबाद दीं.

अंडमान में रक्षा मंत्री की दिवाली

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण अंडमान-निकोबार में तीनों सेवाओं के कमान के साथ दिवाली मनाएंगी. सीतारमण आज से दो दिन के दौरे पर अंडमान-निकोबार पर हैं. इस दौरान वह विभिन्न समारोहों के दौरान जवानों के परिजन से बातचीत भी करेंगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें