scorecardresearch
 

पाक प्रेमः BJP अय्यर-खुर्शीद पर लाल, कांग्रेस ने जसवंत-आडवाणी याद दिलाए

मनीष तिवारी ने कहा कि बीजेपी 10 साल तक कहती रही कि आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं चल सकती. चार साल इन्होंने गुमराह किया कि हम पाकिस्तान के साथ आतंकवाद को लेकर बातचीत कर रहे हैं.

पंचायत आजतक में आरके सिंह पंचायत आजतक में आरके सिंह

पंचायत आजतक के कार्यक्रम में केंद्रीय राज्य मंत्री आरके सिंह ने मणिशंकर अय्यर और सलमान खुर्शीद की गलतबयानी को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा. जिसके जवाब में कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने बीजेपी को आडवाणी का जिन्ना प्रेम याद दिलाया.

मनीष तिवारी ने कहा कि बीजेपी 10 साल तक कहती रही कि आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं चल सकती. चार साल इन्होंने गुमराह किया कि हम पाकिस्तान के साथ आतंकवाद को लेकर बातचीत कर रहे हैं. पाकिस्तान में भारत के उच्चायुक्त ने कहा कि हम पाकिस्तान के ऊपर मानवीय मुद्दों पर बातचीत कर रहे हैं और मानवता का जवाब  पाकिस्तान गोलाबारूद से दे रहा है. आलम ये है कि 85000 लोग कश्मीर से अपना घर छोड़ चुके हैं. फिर भी आप कहते हैं कि आपकी कूटनीति सही रही है.

डोकलाम में चीनी राजदूत से राहुल गांधी की मुलाकात पर उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार में बीजेपी के पूर्व विदेश मंत्री यशवंत सिन्हा निरंतर और लगातार सारे राजदूतों से मिलते थे, हमने कभी सवाल नहीं उठाया. दूसरे देशों से खराब रिश्तों के होने के बावजूद बीजेपी के नेता वहां के राजदूतों से मिलते रहे हैं लेकिन हमने कभी उनसे सवाल नहीं किया कि राष्ट्र हित को परे रखकर आप क्यों ये मुलाकात कर रहे हो. आपके मन में राहुल की मुलाकात को लेकर जो भी धारणा है वो गलत है.

मणिशंकर अय्यर के विवादित बोल के सवाल पर मनीष तिवारी ने कहा कि उनकी एक अपनी राय है और वो राय आज से नहीं बल्कि उस समय से है जब वो सिविल सर्विसेज में थे. मुझे इस बात का गर्व है कि हमारी पार्टी में ऐसा लोकतंत्र है कि अलग अलग लोग अलग अलग राय रख सकते हैं.

केंद्रीय राज्य मंत्री आरके सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाषण दे रहे थे तभी अजान की आवाज सुनाई दी और वो रुक गए. यह दर्शाता है कि हम सबका सम्मान करते हैं.

इस दौरान पंचायत आजतक के मंच पर मौजूद केंद्रीय राज्य मंत्री आरके सिंह ने कहा कि कांग्रेस के एक और पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने पाक के मिलिट्री कॉलेज में अपने देश की बुराई की. इस पर कोई दिक्कत नहीं हुई. जब बात राष्ट्र हित की हो तो राजनीतिक हित को परे कर देना चाहिए. न ही वोट बैंक को इसमें जोड़ना चाहिए.

साथ ही उन्होंने मोदी सरकार की कूटनीति की तारीफ करते हुए कहा कि आज अमेरिका, रूस या चीन सब हमारे साथ जुड़ना चाह रहे हैं. हमारी बात पर ध्यान दे रहे हैं. यह मोदी सरकार की कूटनीतिक सफलता है. इस पर मनीष तिवारी ने बीजेपी नेता जसवंत सिंह द्वारा जिन्ना पर लिखी किताब को याद दिलाते हुए पूछा कि जिन्ना के कब्र पर एल के आडवाणी गए थे या फिर खुर्शीद गए थे और उसे एकता की निशानी किसने करार दिया था. तिवारी ने हमलावर तेवर दिखाते हुए कहा कि वो बीजेपी नेता अटल बिहारी वाजपेयी ही थे बस लेकर लाहौर गए थे.

केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार के कार्यकाल के चार साल पूरे होने पर शनिवार 26 मई को पंचायत बुलाई है. आजतक के इस मंच पर केंद्र सरकार के वरिष्ठतम मंत्रियों समेत विपक्ष के कई बड़े नेता हिस्सा ले रहे हैं. नई दिल्ली के होटल ताज पैलेस में दिनभर चलने वाली इस पंचायत में मोदी सरकार के मंत्री अपना-अपना रिपोर्ट कार्ड पेश करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें