scorecardresearch
 

विपक्षी एकता से BJP पर कोई फर्क नहीं, 2014 में भी सब एक थे: अमित शाह

सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि पर बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि हमारी उपलब्धि यही है कि हमने चुनाव से पहले जितने भी वादे किए उनमे से अधिकांश वादों को हम समाप्त करके पांचवे साल में प्रवेश करने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि हर क्षेत्र में हमने जो तय किया था उस उद्देश्य की पूर्ति के लिए पीएम मोदी के साथ पूरी कैबिनेट ने काम किया और उसे पूरा किया.

पंचायत आजतक में अमित शाह पंचायत आजतक में अमित शाह

पंचायत आजतक कार्यक्रम के मंच से भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार के चार साल के कामों का लेखा-जोखा सामने रखा. उन्होंने कहा कि सरकार ने कोई एक उपलब्धि हासिल नहीं की, बल्कि देश के विकास के लिए हर क्षेत्र में काम किया और उपलब्धि हासिल की है. साथ ही उन्होंने कहा कि विपक्षी एकता से बीजेपी पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा, 2019 में हम दोबारा सरकार बनाएंगे.

सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि पर बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि हमारी उपलब्धि यही है कि हमने चुनाव से पहले जितने भी वादे किए, उनमें से अधिकांश वादों को हम समाप्त करके पांचवें साल में प्रवेश करने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि हर क्षेत्र में हमने जो तय किया था, उस उद्देश्य की पूर्ति के लिए पीएम मोदी के साथ पूरी कैबिनेट ने काम किया और उसे पूरा किया.

भ्रष्टाचार उनमूलन के लिए हो, कृषि के क्षेत्र में हो, गरीबी उन्मूलन के लिए हो, देश को सुरक्षित करने के लिए हो, देश के गौरव को बढ़ाने के लिए हो, हर क्षेत्र में तय किए गए लक्ष्य की प्राप्ति के लिए प्रधानमंत्री से लेकर सरकार के छोटे से छोटे कर्मचारी तक ने काम किया है.

बीजेपी और कांग्रेस की जीत में अंतर पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि 70 के दशक में जब कांग्रेस पार्टी निर्बल हुई तब उन्होंने लोकतंत्र की हत्या की, इमरजेंसी डाली, मीडिया को चुप कर दिया. लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने परिश्रम के आधार पर लोकप्रियता हासिल की है. मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं. यह इसलिए है क्योंकि हमने सरकार की चीजों को लोगों तक पहुंचाकर उनका मन जीतकर सरकार बनाई लेकिन कांग्रेस ने जितनी भी जीत हासिल की वो कहीं न कहीं सरकार पर आधारित थी.

कर्नाटक चुनाव के बाद दिखी विपक्षी एकता पर अमित शाह ने कहा कि उस पूरी तस्वीर में चंद्रबाबू नायडू के अलावा एक व्यक्ति या चेहरा ऐसा नहीं था जिसने 2014 में हमारे खिलाफ चुनाव न लड़ा हो. हमने 2014 के लोकसभा चुनाव में सभी को हराया था और पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई थी. 2019 में भी हम जीतेंगे और दोबारा सरकार बनाएंगे. बीजेपी पर विपक्षी एकता से कोई फर्क नहीं पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि इस तस्वीर में देखेंगे तो पाएंगे कि एक छोटा सा बदलाव सिर्फ यूपी में देखने को मिला है जहां मायावती और अखिलेश यादव एक हो गए हैं. उन्होंने कहा कि जब दो लड़के एक साथ यूपी में आए थे तब भी यह कहा गया कि यूपी में भाजपा नहीं आएगी लेकिन हुआ क्या, हमारी 325 सीटें आईं.

अमित शाह ने कहा कि हम 50 प्रतिशत के लिए लड़ाई लड़ेंगे. उत्तर प्रदेश में एक सीट बढ़ेगी कम नहीं होगी. उन्होंने कहा कि 1967 के बाद बीजेपी ही एक मात्र ऐसी पार्टी है जिसे 50 फीसदी वोट मिले हैं.

केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार के कार्यकाल के चार साल पूरे होने पर शनिवार 26 मई को पंचायत बुलाई. आजतक के इस मंच पर केंद्र सरकार के वरिष्ठतम मंत्रियों समेत विपक्ष के कई बड़े नेताओं ने हिस्सा लिया. नई दिल्ली के होटल ताज पैलेस में दिनभर चलने वाली इस पंचायत में मोदी सरकार के मंत्री अपना-अपना रिपोर्ट कार्ड पेश किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें