scorecardresearch
 

नीतीश का मोदी पर निशाना, बिहार में नहीं चलेगी तनाव की राजनीति

बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बिहार दौरे को लेकर नीतीश सरकार इस बार कोई खतरा मोल लेने को तैयार नही तो सियासी हमले से भी बाज नहीं आ रही है.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बिहार दौरे को लेकर नीतीश सरकार इस बार कोई खतरा मोल लेने को तैयार नहीं है. साथ ही वह सियासी हमले से भी बाज नहीं आ रही है.

नरेंद्र मोदी की सुरक्षा के लिए जबरदस्त बंदोबस्त तो किए गए हैं, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सांत्वना के दौरे को सियासी करार दिया है. उनका आरोप है कि बीजेपी तनाव की राजनीति के जरिए बिहार के माहौल को बिगाड़ने की कोशिश कर रही है, पर वो सफल नहीं होगी.

मोदी के पटना दौरे और बीजेपी की अस्थि-कलश यात्रा के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा, 'बीजेपी चाहे जो मर्जी हो, वो करती रहे. बिहार की जमीन सद्भाव की जमीन है. वो सद्भाव बिगाड़ने की हरसंभव कोशिश करेंगे. यह हम लोगों को मालूम है. पिछले कुछ महीनों से हम सब कुछ देख रहे हैं.'

मोदी पर निशाना साधते हुए नीतीश कुमार ने कहा, 'लोगों को लगता है कि तनाव की राजनीति करके सद्भाव को बिगाड़कर, वो सियासत कर सकते हैं. वैसी राजनीति को बिहार के लोगों ने पहले भी नकारा है और वो आने वाले दिनों में भी ऐसा ही करेंगे.'

'मोदी पटना को बना लें हेडक्वार्टर, फिर भी फर्क नहीं'
जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा, 'खूब पटना जाएं, वहीं रह जाएं, कोई फर्क नहीं पड़ता. सबका देश है. बेहतर हो कि पटना को ही हेडक्वार्टर बना लें और देश भर में घूमें. इससे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें