scorecardresearch
 

IM आतंकवादियों से करीब से जुड़ी हुई पाकिस्तान की ISI: एनआईए

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार को एक अदालत में कहा कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI प्रतिबंधित इंडियन मुजाहिदीन के शीर्ष आतंकवादियों के साथ 'करीबी रूप से जुड़ी' हुई है. यही नहीं, एजेंसी ने दावा किया कि ISI ने भारत में वांछित आतंकी संगठनों के सदस्यों को आश्रय प्रदान किया है.

X
symbolic image symbolic image

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार को एक अदालत में कहा कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI प्रतिबंधित इंडियन मुजाहिदीन के शीर्ष आतंकवादियों के साथ 'करीबी रूप से जुड़ी' हुई है. यही नहीं, एजेंसी ने दावा किया कि ISI ने भारत में वांछित आतंकी संगठनों के सदस्यों को आश्रय प्रदान किया है.

एनआईए ने यह सारी बातें इंडियन मुजाहिदीन के फरार सह संस्थापकों रियाज भटकल और इकबाल भटकल समेत इंडियन मुजाहिदीन के 20 संदिग्ध आतंकवादियों के खिलाफ दायर अपने पूरक आरोपपत्र में कही है. एनआईए ने देशभर में आतंकवादी गतिविधियां चलाने की प्रतिबंधित समूह की बड़ी साजिश से संबंधित मामले में यह पूरक आरोप पत्र दायर किया.

एजेंसी ने कहा, 'जांच ने स्थापित किया है कि साजिश के सिलसिले में आरोपी ए-10 (रियाज भटकल) का पाकिस्तान की आईएसआई के साथ करीबी संबंध बना हुआ है. आईएसआई ने इंडियन मुजाहिदीन के आतंकवादियों के लिए प्रशिक्षण का आयोजन किया और ए-10 समेत कई आरोपियों को आश्रय प्रदान किया.' एनआईए ने यह भी कहा कि मामले में उसकी जांच ने स्थापित किया कि पाकिस्तान में रह रहे इकबाल भटकल ने धन और समर्थन के लिए आईएसआई से खुद को जोड़ा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें