scorecardresearch
 

मोदी सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार, ये हैं नए मंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट का पहला विस्तार रविवार को हो गया. सरकार में 4 नए कैबिनेट मंत्री, 3 स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री और 14 राज्यमंत्री समेत कुल 21 मंत्रियों को सरकार में शामिल किया गया है. जानिए कैबिनेट के नए मंत्रियों के बारे में...

मोदी कैबिनेट का पहला विस्तार मोदी कैबिनेट का पहला विस्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट का पहला विस्तार रविवार को हो गया. सरकार में 4 नए कैबिनेट मंत्री, 3 स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री और 14 राज्यमंत्री समेत कुल 21 मंत्रियों को सरकार में शामिल किया गया है. जानिए कैबिनेट के नए मंत्रियों के बारे में...

कैबिनेट मंत्री

1. मनोहर पर्रिकर: गोवा के पूर्व सीएम हैं. हिंदू विचारधारा के कट्टर समर्थक हैं. पर्रिकर कठोर फैसलों के लिए जाने जाते हैं.

2. सुरेश प्रभु: वाजपेयी सरकार में मंत्री थे. पीएम मोदी की पसंद के नेता माने जाते हैं. नदियों को जोड़ने वाली कमेटी के अध्यक्ष रहे हैं.

3. जेपी नड्डा: जगत प्रकाश नड्डा अमित शाह और मोदी दोनों के करीबी माने जाते हैं. हिमाचल से पार्टी का चेहरा रहे हैं.

4. चौधरी बीरेंद्र सिंह: हरियाणा के बड़े जाट नेताओं में से एक हैं. इनकी पत्नी प्रेमलता ने दुष्यंत चौटाला को चुनाव हराया था. सिंह हाल ही कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए हैं.

राज्य मंत्री(स्वतंत्र प्रभार)

1. बंडारु दत्तात्रेय: साल 2004-09 में सिकंदराबाद से चुनाव हारे. वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे. कई समितियों के अध्यक्ष रहे.

2. राजीव प्रताप रुडी: साल 1996 में पहली बार लोकसभा पहुंचे. वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे. रुडी एक सफल पायलट रहे हैं. सारण से सांसद हैं.

3. डॉ. महेश शर्मा: संघ में अच्छी पैठ है. 2012 में यूपी में विधानसभा के लिए चुने गए. गौतमबुद्ध नगर से बीजेपी के सांसद हैं. पेश से डॉक्टर हैं महेश शर्मा.

राज्य मंत्री

1. मुख्तार अब्बास नकवी: लंबे समय से बीजेपी का चेहरा रहे हैं. राज्यसभा से सांसद हैं. पार्टी के उपाध्यक्ष भी हैं. नकवी वाजपेयी सरकार में भी मंत्री रहे हैं.

2. राम कृपाल यादव: लंबे वक्त तक लालू प्रसाद यादव के साथ रहे. 12 मार्च 2014 को बीजेपी के सदस्य बने. टिकट कटने पर लालू का साथ छोड़ा. लालू की बेटी मीसा भारती को लोकसभा चुनाव में हराया था.

3. हरिभाई पाटिलीभाई चौधरी: गुजरात से बीजेपी का चेहरा हैं. वनसकाडा से बीजेपी के सांसद हैं. बीजेपी के पुराने कार्यकर्ता हैं.

4. सांवर लाल जाट: राजस्थान में कैबिनेट मंत्री रहे. अजमेर से सचिन पायलट को हराकर बीजेपी के सांसद हैं. सियासत में आने से पहले प्रोफेसर थे.

5. मोहन कुंडारिया: तानकर गुजरात से बीजेपी के सांसद हैं. मोदी के करीबी माने जाते हैं. 2007-2012 में तानकर से विधायक रहे.

6. गिरिराज सिंह: नवादा से बीजेपी के सांसद हैं. बिहार में नीतीश सरकार में मंत्री रहे. मोदी के मुखर समर्थक हैं. अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं. संघ के करीबी लोगों में माने जाते हैं.

7. हंसराज अहीर: महाराष्ट्र के विदर्भ से बीजेपी के सांसद हैं. कोयला घोटाले का मामला उठाने के लिए जाने जाते हैं.

8. रामशंकर कठेरिया: यूपी में बीजेपी का दलित चेहरा हैं. अक्टूबर 2014 में बीजेपी के प्रभारी बनाए गए. आगरा से बीजेपी के सांसद हैं.

9. वाई एस चौधरी: मुख्यमंत्री चंद्र बाबू के बेहद करीबी हैं. आंध्र प्रदेश के बड़े उद्योगपति हैं. राज्यसभा से सांसद हैं और टीडीपी के सदस्य भी हैं.

10. जयंत सिन्हा: बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा के बेटे हैं. हजारीबाग से बीजेपी के सांसद हैं. मोदी मंत्रिमंडल से झारखंड के दूसरे मंत्री हैं.

11. राज्यवर्धन सिंह राठौड़: सेना की नौकरी छोड़कर राजनीति में आए. 2004 एथेंस ओलंपिक में रजत पदक जीता.

12. बाबुल सुप्रियो: पहली बार लोकसभा के लिए चुने गए हैं. इसी साल बीजेपी में चुनावों से पहले शामिल हुए थे. आसनसोल से बीजेपी के सांसद हैं.

13. साध्वी निरंजन ज्योति: ईमानदार छवि की मानी जाती हैं. पहली बार लोकसभा में पहुंची हैं. फतेहपुर से बीजेपी सांसद हैं.

14. विजय सांपला: पहली बार होशियारपुर से सांसद चुने गए हैं. 1990 में बीजेपी से जुड़े. पंजाब में बीजेपी का बड़ा चेहरा हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें