scorecardresearch
 

बाइक पर बेटी का शव लेकर जा रहे थे गांव, वाहन की टक्कर से मां की मौत, पिता जख्मी

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक बेहद दुखद मामला सामने आया. जहां पर एक मां-बाप को वाहन नहीं मिलने की वजह से अपनी इकलौती बेटी का शव बाइक पर लाने के लिए मजबूर होना पड़ा. लेकिन अपने घर गभाना पहुंचने से पहले एक अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मारी. इस हादसे में मां की भी मौत हो गई.

मृतक के परिजन (Photo Aajtak) मृतक के परिजन (Photo Aajtak)

  • बेटी का शव बाइक पर ले जाने के लिए मजबूर
  • अज्ञात वाहन ने मारी टक्कर महिला की हुई मौत

कोरोना लॉकडाउन में लोगों को बड़ी-बड़ी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है. उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक ऐसा ही दुखद मामला सामने आया. एक मां-बाप को वाहन नहीं मिलने की वजह से अपनी इकलौती बेटी का शव बाइक पर लाने के लिए मजबूर होना पड़ा. लेकिन अपने घर गभाना पहुंचने से पहले एक अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मारी इस हादसे में मां की भी मौत हो गई और पिता गंभीर रूप से घायल हो गया.

थाना अकराबाद निवासी सत्यवीर सिंह अपनी पत्नी प्रीति के साथ विजय नगर गाजियाबाद में नौकरी कर रहे थे. डेढ़ साल पहले ही उसकी शादी हुई थी और एक बेटी थी. बुधवार को उनकी इकलौती बेटी गुंजन की तबीयत खराब हो गई. उसे लेकर वे अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया.

अज्ञात वाहन ने मारी टक्कर

लॉकडाउन के चलते उन्हें बेटी का शव ले जाने के लिए वाहन नहीं मिला. इस पर पति- पत्नी बाइक से ही बेटी का शव लेकर अंतिम संस्कार के लिए अपने गांव के लिए चल दिए. दोपहर गभाना हाईवे पर किसी अज्ञात वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी. हादसे में प्रीति की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि सत्यवीर गंभीर रूप से घायल हो गया.

महिला की मौके पर ही हुई मौत

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही घायल सत्यवीर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. परिजनों को सूचना मिलने पर परिवार में कोहराम मच गया. इस मामले में एसपी सिटी अभिषेक कुमार का कहना है कि ये लोग गाजियाबाद से अपनी बेटी का शव लेकर मोटरसाइकिल से आ रहे थे. रास्ते में एक अज्ञात वाहन ने टक्कर मारी जिसमें महिला की मौत हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें