scorecardresearch
 

8 दिसंबर से वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की दस्तक, मैदान में बारिश तो पहाड़ों पर होगी बर्फबारी

उत्तर पश्चिम भारत में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस दस्तक देने जा रहा है. इस वेस्टर्न डिस्टर्बेंस का असर उत्तर पश्चिम भारत में 8 दिसंबर से लेकर 12 दिसंबर तक रहेगा. वेस्टर्न डिस्टर्बेंस का पुरवइया हवाओं के साथ टकराव होगा जिसकी वजह से पहाड़ों के साथ-साथ मैदानी इलाकों में मौसम बदल जाएगा.

फाइल फोटो फाइल फोटो

मौसम विभाग के मुताबिक एक ताकतवर वेस्टर्न डिस्टर्बेंस उत्तर पश्चिम भारत में दस्तक देने जा रहा है. इस वेस्टर्न डिस्टर्बेंस का असर उत्तर पश्चिम भारत में 8 दिसंबर से लेकर 12 दिसंबर तक रहेगा. वेस्टर्न डिस्टर्बेंस का पुरवइया हवाओं के साथ टकराव होगा जिसकी वजह से पहाड़ों के साथ-साथ मैदानी इलाकों में मौसम बदल जाएगा.

मौसम विभाग की भविष्यवाणी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर के ज्यादातर इलाकों में 8 दिसंबर से लेकर 12 दिसंबर तक मौसम बदल जाएगा. यहां पर बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी रहेगा. कश्मीर घाटी के साथ-साथ आसपास के ज्यादातर इलाकों में बर्फबारी होगी. कई जगहों पर भारी बर्फबारी का अंदेशा भी मौसम विभाग ने जताया है. जम्मू इलाके की बात करें तो यहां मैदानी इलाके में बारिश देखी जाएगी.

मौसम विभाग के डीडीजीएम बीपी यादव के मुताबिक हिमाचल और उत्तराखंड के कई इलाकों में 9 दिसंबर से लेकर 12 दिसंबर तक बारिश और बर्फबारी का सिलसिला देखा जाएगा. लेकिन यहां पर हल्की बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है. बीपी यादव के मुताबिक उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में राजस्थान के अलावा सभी जगहों पर 10 दिसंबर से लेकर 11 दिसंबर तक हल्की बारिश या गरज के साथ बारिश होने की संभावना है.

मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली एनसीआर की बात करें तो यहां पर 11 दिसंबर को हल्की बारिश होने की संभावना है. 9 तारीख की शाम से दिल्ली और आसपास के इलाकों में 8 से लेकर 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पुरवइया या दक्षिण पुरवइया हवाएं चलने का अनुमान है. इस वजह से यहां पर हवा में प्रदूषण कम रहेगा लेकिन इन हवाओं के वेस्टर्न डिस्टर्बेंस से टकराव की वजह से 11 तारीख को दिल्ली एनसीआर के कई इलाकों में हल्की बारिश होने का अनुमान लगाया गया है.

12 दिसंबर को वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के आगे निकल जाने के बाद दिल्ली एनसीआर के तमाम इलाकों में रात के तापमान में गिरावट देखी जाएगी और 14 दिसंबर को दिल्ली एनसीआर में 6 से लेकर 8 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ठंडी हवाएं चलनी शुरू हो जाएंगी. इसका सीधा सा मतलब यह हुआ दिल्ली एनसीआर में ठंड बढ़ जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें