scorecardresearch
 

दिसंबर में भी नहीं पड़ रही सर्दी, मौसम विभाग ने बताए ये कारण

संभावना है कि पश्चिमी विक्षोभ  11 दिसंबर के बाद हिमालय की तरफ कूच करेगा और फिर मौसम में ठंडक महसूस की जा सकेगी. इसके बाद ही उत्तर भारत के राज्यों में में पारा लुढ़केगा.

X
दिल्ली में सर्दी (फोटो-रॉयटर्स)
दिल्ली में सर्दी (फोटो-रॉयटर्स)

दिसंबर आ गया है, लेकिन उत्तर भारत में सर्दी का अहसास उस तरह से नहीं हो रहा है, जैसा इस समय तक अपेक्षित होता है. दिल्ली में 1 दिसंबर को अधिकतम 26 जबकि न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग का पूर्वानुमान कहता है कि तापमान में अभी कोई बदलाव देखने को नहीं मिलेगा.

हालांकि नवंबर में पश्चिमी विक्षोभ के कारण जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में बर्फबारी हुई थी. इसकी वजह से उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में मामूली ठंडक महसूस की गई. लेकिन यह स्थिति एक-दो दिन ही कायम रह सकी. मौसम विभाग के मुताबिक सुखे पश्चिमी विक्षोभ के कारण उत्तर की सर्द हवा भारतीय क्षेत्र में प्रवेश नहीं कर पा रही है. नतीजतन हर साल दिसंबर के मुकाबले इस दिसंबर में केवल सामान्य तापमान महसूस किया जा रहा है.

मौसम विभाग की वैज्ञानिक सुनीता देवी बताती हैं, "हमारे पूर्वानुमान के अनुसार इस साल उत्तर पश्चिमी भारत में दिसंबर में तापमान सामान्य स्थिति की तुलना में अधिक है. उदाहरण के लिए, दिल्ली में रात का औसत तापमान 10 डिग्री है, लेकिन क्लाउड कवर के कारण तापमान 1 डिग्री सेल्सियस अधिक है. इसी तरह दिन का तापमान 26-27 डिग्री तक पहुंचने की उम्मीद है."

सुनीता देवी ने कहा कि संभावना है कि पश्चिमी विक्षोभ  11 दिसंबर के बाद हिमालय की तरफ कूच करेगा और फिर मौसम में ठंडक महसूस की जा सकेगी. इसके बाद ही उत्तर भारत के राज्यों में में पारा लुढ़केगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें