scorecardresearch
 

ड्रैगन की चालों को डिकोड करेगा ITBP का इंटेलीजेंस स्कूल, गृह मंत्रालय ने दिया ग्रीन सिग्नल

गृह मंत्रालय से जुड़े सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जल्द ही दिल्ली में ये खुफिया जानकारी एकत्रित करने वाला स्कूल खोला जाएगा. इस स्कूल के जरिए भारत चीन सीमा की उन तमाम जानकारियों को एक जगह एकत्रित करके अलग-अलग विभागों में भेजने का बड़ा प्लान है.

राजनाथ सिंह राजनाथ सिंह

भारत-चीन सीमा की संवेदनशीलता और रणनीतिक महत्व को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इंडो तिब्बत बॉर्डर पुलिस (ITBP) को अहम कदम उठाने की इजाजत दी है. ITBP को दिल्ली में इंटेलीजेंस स्कूल खोलने के लिए गृह मंत्रालय ने हरी झंडी दिखाई है.

गृह मंत्रालय से जुड़े सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जल्द ही दिल्ली में ये खुफिया जानकारी एकत्रित करने वाला स्कूल खोला जाएगा. इस स्कूल के जरिए भारत चीन सीमा की उन तमाम जानकारियों को एक जगह एकत्रित करके अलग-अलग विभागों में भेजने का बड़ा प्लान है.

ITBP के महानिदेशक आर के पचनंदा ने ITBP के स्थापना दिवस पर इस बल का इंटेलिजेंस स्कूल खोले जाने का संकेत दिया था. साथ ही कहा था कि इसके लिए प्रक्रिया चल रही है. उन्होंने ये भी कहा था कि सीमा पर सुरक्षा पुख्ता करने के लिए ITBP अपने खुफिया संसाधनों (इंटेलीजेंस रिसोर्सेस) को मजबूत कर रहा है. पचनंदा के मुताबिक भारत चीन सीमा की निगरानी के लिए ITBP अपना डेडिकेटेड सैटेलाइट भी लेकर आ रहा है. इससे सीमा पार चीन की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने में मदद मिलेगी.

बता दें कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तराखंड में सीमावर्ती इलाकों का दौरा करते समय यहां रहने वाले लोगों को ‘स्ट्रैटेजिक एसेट्स’ बताया था. साथ ही कहा था कि ITBP को इन लोगों का पूरा ध्यान रखना चाहिए. सीमा पर ITBP के जवान हर घड़ी मुस्तैद है. ये रणनीति का ही हिस्सा है कि इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के साथ-साथ इंटेलीजेंस पावर को भी धार देने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें