scorecardresearch
 

कोरोना से निपटने पर हाई लेवल मीटिंग, अमित शाह ने एक्सपर्ट्स से की चर्चा

देश में कोरोना वायरस से उपजे हालात को लेकर आज केंद्रीय गृह मंत्रालय में उच्च स्तरीय बैठक हुई. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में ये अहम बैठक हुई है.

बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली में कोरोना के मामलों की समीक्षा कर रहे  (फोटो-PTI) बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली में कोरोना के मामलों की समीक्षा कर रहे (फोटो-PTI)

  • बैठक में एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया मौजूद
  • शाह ने दिल्ली में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की

देश में कोरोना वायरस से उपजे हालात को लेकर आज केंद्रीय गृह मंत्रालय में उच्च स्तरीय बैठक हुई. गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में ये अहम बैठक हुई. इस बैठक में एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया, डीजी आईसीएमआर बलराम भार्गव, डॉ. वीके पॉल और केंद्रीय गृह सचिव जैसे महत्वपूर्ण लोग शामिल रहे.

इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली में कोरोना के मामलों की समीक्षा की. साथ ही दिल्ली में कंटेनमेंट जोन के हालात और कंटेनमेंट एरिया में डोर टू डोर टेस्टिंग में कैसे कदम बढ़ाने हैं इस पर डॉक्टरों की टीम के साथ चर्चा की गई. सूत्रों ने बताया कि बैठक के मुताबिक दिल्ली में स्थिति नियंत्रण में हैं.

बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली में कोरोना वायरस को देखते हुए घर-घर की जाने वाली स्क्रीनिंग पर रोक लगा दी है. गृह मंत्रालय ने अपनी समीक्षा के बाद पाया कि पहले कंटेनमेंट जोन के सभी घरों की स्क्रीनिंग और सीरो सर्वे को प्राथमिकता दी जाए. केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद ही दिल्ली सरकार ने दिल्ली के सभी 35 लाख से ज्यादा घरों की 6 जुलाई तक स्क्रीनिंग के आदेश दिए थे.

अभी हाल में डॉ वी के पॉल समिति की सिफारिशों के मद्देनजर दिल्ली सरकार के डायरेक्टरेट जनरल हेल्थ सर्विसेज ने एक प्लान जारी किया था. इसमें कहा गया था कि राजधानी दिल्ली में 6 जुलाई तक हर घर की स्क्रीनिंग होगी.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

घर-घर स्क्रीनिंग के बारे में गृह मंत्रालय का बयान आया था कि पूरे शहर में घर-घर स्क्रीनिंग की बात कभी नहीं कही गई. बल्कि सभी कंटेनमेंट जोन में घर-घर स्क्रीनिंग की बात कही गई थी. पूरी दिल्ली में सीरोलॉजिकल सर्वे का फैसला हुआ था. घर-घर स्क्रीनिंग के लिए रणनीति बनाई जा रही है. इस पर आगे का काम जारी है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

इसके साथ ही दिल्ली कोविड रिस्पांस प्लान के मुताबिक, यह तय किया गया कि समयबद्ध तरीके से दिल्ली अपनी कंटेनमेंट रणनीति को आगे बढ़ाएगी. इसमें कहा गया था कि 30 जून तक कंटेनमेंट जोन में हर घर की स्क्रीनिंग होगी. वहीं, 6 जुलाई तक सभी घरों की स्क्रीनिंग की जाएगी. प्लान के मुताबिक, दिल्ली में सीरो सर्वे शुरू करने की योजना थी जिसके नतीजे 10 जुलाई तक आने की बात कही गई थी. हालांकि अब इस पर रोक लगा दी गई है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

बता दें, दिल्ली में कोरोना के हालात बेहद चिंताजनक हो चुके हैं. यहां पर 83 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. अभी रविवार को ही गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोरोना के इंतजामों की जानकारी दी और सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना से लड़ाई के प्लान पर आजतक से एक्सक्लूसिव बातचीत की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें