scorecardresearch
 

जम्मू-कश्मीर में सरकार गठन की कोश‍िशें जारी, PDP-BJP के बीच पक रही 'ख‍िचड़ी'

जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने की कवायद जारी है. मौजूदा सियासी हालत के मद्देनजर इस बात की संभावना ज्यादा है कि पीडीपी और बीजेपी हाथ मिला सकते हैं. बताया जा रहा है कि केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कुछ दिनों पहले पीडीपी के सीनियर नेता मुफ्ती मोहम्मद सईद को फोन करके सरकार गठन की संभावना तलाशने को कहा था.

X

जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने की कवायद जारी है. मौजूदा सियासी हालत के मद्देनजर इस बात की संभावना ज्यादा है कि पीडीपी और बीजेपी हाथ मिला सकते हैं. बताया जा रहा है कि केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कुछ दिनों पहले पीडीपी के सीनियर नेता मुफ्ती मोहम्मद सईद को फोन करके सरकार गठन की संभावना तलाशने को कहा था. जम्मू-कश्मीर: राज्यपाल ने दी सरकार गठन की डेडलाइन

अंग्रेजी अखबार 'द इंडियन एक्सप्रेस' ने अरुण जेटली और मुफ्ती मोहम्मद सईद के बीच फोन पर बात होने की खबर छापी है. पीडीपी के प्रवक्ता नईम अख्तर ने इस बात की पुष्ट करते हुए कहा कि दोनों के बीच औपचारिक बातचीत हुई. उन्होंने कहा कि मुफ्ती मोहम्मद सईद एक जाने-माने सीनियर नेता हैं. हालांकि नईम अख्तर ने कहा कि गुरुवार को पीडीपी के किसी भी नेता ने बीजेपी लीडरश‍िप से मुलाकात नहीं की.

बनेगी बीजेपी-पीडीपी की सरकार?
पीडीपी और बीजेपी ने प्रदेश में सरकार के गठन की कोशिशों को रफ्तार देना शुरू कर दिया है. दोनों के बीच गठबंधन में आ रही समस्याओं के संकेत के बीच गुरुवार को उन्होंने साफ किया कि वे सरकार बनाने के लिए तैयार हैं. राज्यपाल एनएन वोहरा से पीडीपी प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात के एक दिन बाद बीजेपी ने राज्यपाल से मुलाकात की और कहा कि वह राज्य में एक स्थिर सरकार के गठन के लिए प्रतिबद्ध है.

पीडीपी के एक सीनियर लीडर ने कहा कि दोनों पार्टियों के बीच बातचीत के सभी रास्ते खुले हैं. वहीं पार्टी प्रवक्ता नईम अख्तर ने कहा, 'सरकार गठन को लेकर वार्ता होनी अभी बाकी है.' पीडीपी ने सरकार गठन पर यह कहकर सहमति जताई है कि प्रदेश को समस्याओं से निजात दिलाने के लिए एक स्थिर सरकार की जरूरत है.

इससे पहले, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष जुगल किशोर ने कहा था कि उनकी पार्टी की प्राथमिकता समस्याओं से जूझ रहे राज्य में स्थिर सरकार देना है. उन्होंने कहा कि पीडीपी के साथ सरकार गठन को लेकर एक औपचारिक बातचीत शुरू होगी.

जुगल किशोर ने कहा, 'वार्ता शुरू होने वाली है और सौहार्दपूर्ण माहौल में होगी. स्थिर सरकार प्राथमिकता है. हमें सरकार बनाने की जल्दबाजी नहीं है'

जुगल किशोर ने कहा कि उन्हें सरकार गठन को लेकर कोई हिचकिचाहट नजर नहीं आती. उन्होंने कहा कि राज्य में गठबंधन सरकार अगले छह साल का कार्यकाल पूरा करेगी.

महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार की तारीफ की थी, जिसके बाद बीजेपी महासचिव राम माधव ने पीडीपी नेता को धन्यवाद दिया था. गौरतलब है कि 87 सीटों वाली विधानसभा में पीडीपी को 28, जबकि बीजेपी को 25 सीटें मिली हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें