scorecardresearch
 

बेटा गलती करे तो सजा पिता को दो: रमन सिंह

बेटा कत्ल करे और सजा भुगते बाप. कम से कम रमन सिंह की सलाह तो यही कहती है. साइंस सेंटर के उद्घाटन के मौके पर रमन सिंह ने कहा कि पिता से ही आते है बच्चों में सारे गुण, इसलिए गलतियों के जिम्मेदार बच्चे कैसे हो सकते है.

X
रमन सिंह रमन सिंह

बेटा कत्ल करे और सजा भुगते बाप. कम से कम रमन सिंह की सलाह तो यही कहती है. साइंस सेंटर के उद्घाटन के मौके पर रमन सिंह ने कहा कि पिता से ही आते है बच्चों में सारे गुण, इसलिए गलतियों के जिम्मेदार बच्चे कैसे हो सकते है.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने की विज्ञान की बारीकियों पर बात. मौका था रायपुर में साइंस सेंटर के उद्घाटन का  जहां रमन सिंह भाषण देते हुए डीएनए और जीन्स की चर्चा कर बैठे. विज्ञान की मोटी जानकारी रखने वाले जानते हैं कि मां-बाप से मिलती-जुलती सूरत और गुण- दोष डीएनए के जरिए बच्चे तक पहुंचती है. यहां तक कि कई बीमारियां भी एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में डीएनए के साथ आ जाती हैं. लेकिन डीएनए की जैसी व्याख्या रमन सिंह ने कही उसे आपने पहले कहीं नहीं सुना होगा.

छत्तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि हजारों साल से डीएनएस और जींस चल रहा है. मैं बोलता हूं कि अगर बेटा गलती करता है तो बाप की ठुकाई करनी चाहिये क्योंकि गुण तो अपने बाबा से ही ले रहा है. चोरी कर रहा है, डाका डाल रहा है, बलात्कार कर रहा है तो बेटे का बिलकुल दोष नहीं है. हमने उसको ऐसा बनाया है जैसा हमारा खून है जैसी हमारी डीएनए है जैसी हमारी सोच है वैसे हमारा बेटा है. अपराधी बेटा नहीं होता बाप होता है.

मुख्यमंत्री रमन सिंह के इस बयान पर  विपक्ष ने बवाल मचा दिया. कांग्रेस का सवाल है कि रमन सिंह क्या कानून में बदलाव लाने की बात कर रहे हैं. 

राज्‍य में कांग्रेस के नेता और विधानसभा में नेता विपक्ष  नंद कुमार पटेल ने कहा कि मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि इस तरीके के बाते करके वो राज्य की जनता पर क्या संदेश देना चाहते है.
मैं तो ये भी कहना चाहूँगा की अगर वो ये सोचते है की जितने अपराधी है जेल मे उन सबको वो छोड़ना चाहते है और उनके पिताजी को जेल मे बंद करना चाहते है. ये उनका सोच है उनके इस कथन से ये बात दर्शाता है.

चलिए अगर ये मान भी लें कि कांग्रेस सियासत की वजह से रमन सिंह का विरोध कर रही है. तो बेटे की गलतियों का अपराधी पिता क्यों. आखिर उसे भी तो ये सब अपने पिता से मिला था.

फिर असली अपराधी की तलाश में कितनी पीढ़ी पीछे जाएंगे रमन सिंह. शायद डीएनए की व्याख्या करने के लिए मुख्यमंत्री जी ने उदाहरण चुनने में चूक कर दी.

सवाल ये भी है कि क्या नक्सली समस्या से निपटने के लिए भी डीएनए थ्योरी का इस्तेमाल करेंगे रमन सिंह.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें