scorecardresearch
 

दूसरी सालगिरह पर मोदी सरकार का बदलेगा चेहरा, कैबिनेट में फेरबदल की तैयारी

बैठक में पीएम मोदी के साथ ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और वित्त मंत्री अरुण जेटली मौजूद रहे. हालांकि शीर्ष नेताओं के बीच क्या बातचीत हुई, इसको लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली

नरेंद्र मोदी की सरकार अपनी दूसरी सालगिरह केंद्रीय कैबिनेट में बड़ा फेरबदल कर सकती है. शुक्रवार रात पीएम आवास सात रेस कोर्स रोड में इस बाबत वरिष्ठ मंत्रियों और दिग्गजों की प्रधानमंत्री के साथ बैठक हुई है. समझा जा रहा है कि इस बैठक में केंद्रीय मं‍त्रीपरिषद के साथ ही बीजेपी की नीति निर्धारक इकाइयों में बदलाव को लेकर भी चर्चा हुई है.

बैठक में पीएम मोदी के साथ ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और वित्त मंत्री अरुण जेटली मौजूद रहे. हालांकि शीर्ष नेताओं के बीच क्या बातचीत हुई, इसको लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. लेकिन सूत्रों का कहना है कि बैठक का संबंध पार्टी और सरकार में बदलावों से हो सकता है. मोदी सरकार 26 मई को अपने कार्यकाल के दो साल पूरे करने जा रही है.

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में भी बदलाव संभव
बीजेपी के एक पदाधिकारी ने बताया कि राजनीतिक हालात पर शीर्ष नेता समय-समय पर मिलते रहते हैं. बता दें कि कैबिनेट में फेरबदल के बारे में पूछे जाने पर शुक्रवार शाम अमित शाह ने कहा कि इस बारे में फिलहाल कोई फैसला नहीं हुआ है. खास बात यह भी है कि इस साल की शुरुआत में अमित शाह के दूसरी बार अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में बदलाव नहीं हुए हैं.

यूपी बीजेपी को मिल सकता है नया चेहरा
जानकार बताते हैं कि दिग्गजों की इस बैठक में यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर भी चर्चा हुई है. समझा जा रहा है कि कैबिनेट के फेरबदल में उत्तर प्रदेश से नए चेहरे शामिल किए जा सकते हैं.

पीएम मोदी कर सकते हैं पांच जनसभाएं
गौरतलब है कि दो साल का कार्यकाल पूरा करने की खुशी में एनडीए की सरकार 26 मई से 25 जून तक जश्न मनाएगी. इसके लिए पीएम मोदी की 5 रैलियां भी संभावित हैं. मोदी 26 मई को सहारनपुर में पहली जनसभा कर सकते हैं, जबकि उनकी दूसरी रैली ओडिशा के बालासोर में होगी. बाकी 3 जनसभाओं की तारीख फिलहाल तय नहीं है. इसके अलावा लोगों तक अपनी कामयाबी पहुंचाने के लिए बीजेपी ने 30 समूह बनाए हैं. 200 लोकसभा सीटों पर नेता रैली करेंगे. इसमें हर ग्रुप में एक कैबिनेट मंत्री होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें