scorecardresearch
 

बांदा बलात्कार पीड़ित से मिले राहुल गांधी

कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में कथित रूप से बसपा विधायक पुरुषोत्तम नरेश द्विवेदी की हवस का शिकार बनी अति पिछड़े वर्ग की लड़की से मुलाकात कर उसकी आपबीती सुनी और उसे हर सम्भव मदद का आश्वासन दिया.

X
Rahul Gandhi Rahul Gandhi

कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में कथित रूप से बसपा विधायक पुरुषोत्तम नरेश द्विवेदी की हवस का शिकार बनी अति पिछड़े वर्ग की लड़की से मुलाकात कर उसकी आपबीती सुनी और उसे हर सम्भव मदद का आश्वासन दिया.

बलात्कार पीड़ित लड़की ने संवाददाताओं को बताया कि उसने अचानक उसके घर पहुंचे राहुल गांधी से करीब 20 मिनट की मुलाकात में अपनी जान को खतरा बताते हुए अपने परिजन की भी सुरक्षा की मांग की. शहबाजपुर निवासी बलात्कार पीड़ित ने आरोप लगाया है कि बलात्कार के इल्जाम में गिरफ्तार किये गए बसपा विधायक द्विवेदी के भाई उसे अब भी जान से मारने की धमकी दे रहे हैं.

कथित रूप से द्विवेदी द्वारा बलात्कार के बाद चोरी के आरोप में जेल भेजी गई उस लड़की ने कहा कि जब विधायक थाने और जेल में उसकी पिटाई करवा सकते हैं तो वह कुछ भी कर सकते हैं. उसने राहुल से बंदूक का लाइसेंस दिलवाने में मदद की भी मांग की. सूत्रों ने बताया कि राहुल ने लड़की की बातें गौर से सुनीं और आश्वासन दिया कि उसकी सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी. {mospagebreak}

सूत्रों के मुताबिक लड़की ने राहुल से कहा है कि राज्य सरकार और पुलिस इस मामले में अब भी मुस्तैदी से काम नहीं कर रही है. लड़की का कहना है कि सरकार जेल में बयान बदलने के लिये उस पर दबाव डालने वाले बांदा के पुलिस अधीक्षक अनिल दास के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है.

लड़की ने राहुल से कहा कि सुरक्षा के नाम पर पुलिस ने उसे गांव में बंधक बनाकर रखा है और वह इस गांव से दूर जाना चाहती है. उसने कांग्रेस नेता से एक घर भी मुहैया कराने की मांग की. गौरतलब है कि बांदा के नरैनी से बसपा के विधायक पुरुषोत्तम नरेश द्विवेदी तथा उनके कुछ साथियों पर एक अति पिछड़े वर्ग की नाबालिग लड़की से दुराचार के बाद उसे चोरी के आरोप में जेल भेजने का आरोप लगा था.

मामले की सीबीसीआईडी जांच की रिपोर्ट के आधार पर आरोपी बसपा विधायक को पिछले महीने गिरफ्तार कर लिया गया था. इसी बीच, इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश पर उस लड़की को जेल से रिहा कर दिया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें