scorecardresearch
 

'बीजेपी ने आजतक किसी महिला को पार्टी अध्यक्ष तक नहीं बनाया', अशोक गहलोत का तंज

प्रियंका गांधी वाड्रा ने ऐलान किया है कि यूपी में होने वाले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस 40% टिकट महिलाओं को देगी. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस कदम का स्वागत करते हुए बीजेपी पर तंज कसा है. गहलोत ने कहा कि बीजेपी ने तो आजतक किसी महिला को पार्टी अध्यक्ष तक नहीं बनाया.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रियंका के फैसले का स्वागत किया है. (फाइल फोटो) मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रियंका के फैसले का स्वागत किया है. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गहलोत ने प्रियंका के फैसले का किया स्वागत
  • इसके बहाने गहलोत ने कसा बीजेपी पर तंज

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों (UP Assembly Election 2022) में कांग्रेस ने 40% टिकट महिलाओं को देने का फैसला लिया है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने ऐलान किया है कि कांग्रेस चुनावों में 40 फीसदी महिला उम्मीदवार उतारेगी. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने इस फैसले का स्वागत किया है. साथ ही साथ इस बहाने उन्होंने बीजेपी पर तंज कसा है. 

गहलोत ने कहा, 'यूपी में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देने का प्रियंका गांधी का फैसला स्वागत योग्य है. कांग्रेस ने देश को महिला राष्ट्रपति और महिला प्रधानमंत्री दी है, लेकिन बीजेपी ने आजतक किसी महिला को पार्टी का अध्यक्ष तक नहीं बनाया.'

गहलोत ने दावा किया कि महिला सशक्तिकरण देश की सबसे पुरानी पार्टी का एजेंडा रहा है. गहलोत ने ये भी दावा किया कि बीजेपी की महिला विरोधी विचारधारा के कारण ही यूपी में महिलाएं असुरक्षित हैं.

ये भी पढ़ें-- प्रियंका के नारे पर BJP का पलटवार- लड़की तो लड़ लेगी, लेकिन आपकी पार्टी के गुंडों का क्या?

उन्होंने कहा, 'महिला सशक्तिकरण कांग्रेस का सबसे महत्वपूर्ण एजेंडा रहा है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) संसद में महिलाओं को 33% आरक्षण दिलाने की दिशा में कोशिश कर रहीं हैं. ये बीजेपी की महिला विरोधी विचारधारा का ही नतीजा है कि यूपी में महिलाएं असुरक्षित हैं, लेकिन प्रदेश में महिला सशक्तिकरण के जरिए कांग्रेस बीजेपी के इस कुशासन को खत्म करेगी.'

यूपी में कुछ ही महीनों में होने हैं चुनाव

उत्तर प्रदेश में अगले साल फरवरी-मार्च में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं. 2017 के चुनाव में बीजेपी ने यहां की 403 में से 312 सीटों पर जीत दर्ज की थी. सपा और कांग्रेस ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. सपा ने 47 और कांग्रेस ने 7 सीटें ही जीती थीं. मायावती की बसपा 19 सीटें जीतने में कामयाब रही थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें