scorecardresearch
 

बाढ़ से बेहाल राजस्थान में अभी और होगी बारिश, बंगाल-झारखंड में अलर्ट जारी

मौसम विभाग का कहना है कि राजस्थान पर बना कम दबाव का क्षेत्र अभी थोड़ा कमजोर पड़ा है, लेकिन इसके बावजूद अगले तीन दिनों तक राजस्थान के तमाम इलाकों में भारी बारिश का सिलसिला जारी रहेगा.

X
राजस्थान के कई इलाकों में बाढ़ राजस्थान के कई इलाकों में बाढ़

राजस्थान के तमाम इलाकों में झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है. पिछले 24 घंटों में बाली में 293 मिलीमीटर की बहुत भारी बारिश रिकॉर्ड की गई, वहीं जोधपुर में 176 मिलीमीटर की बारिश दर्ज की गई है. भारी बारिश के कारण राज्य के कई इलाकें बाढ़ग्रस्त हैं.

इसी तरह माउंट आबू में 168 मिलीमीटर, जालौर में 133 मिलीमीटर और पाली में 108 मिलीमीटर की भारी बारिश रिकॉर्ड की गई. राजस्थान के बाकी इलाकों में मध्यम से भारी बारिश रिकॉर्ड की गई. मौसम विभाग का कहना है कि राजस्थान पर बना कम दबाव का क्षेत्र अभी थोड़ा कमजोर पड़ा है, लेकिन इसके बावजूद अगले तीन दिनों तक राजस्थान के तमाम इलाकों में भारी बारिश का सिलसिला जारी रहेगा.

चंबल नदी के लिए सतर्कता बढ़ाई गई
राजस्थान में हो रही भारी बरिश के कारण कई इलाके बाढ़ग्रस्त हो गए हैं. चंबल के डूब क्षेत्र में हो रही झमाझम बारिश के कारण इस नदी के आसपास के इलाकों में पानी घुसने का खतरा बढ़ गया है. प्रशासन ने इस कारण चंबल नदी के लिए सतर्कता बढ़ा दी है. मौसम विभाग का कहना है कि अगले तीन दिनों तक जोरदार बारिश का सिलसिला जारी रहेगा, लिहाजा राजस्थान की तमाम सूखी हुई नदियां उफना जाएंगी.

बंगाल, ओडिशा, झारखंड में भी अलर्ट
ऐसा अनुमान है कि भारी बारिश का जो दौर दक्षिण और पूर्वी राजस्थान में देखा जा रहा है, अगले दो दिनों में उत्तरी राजस्थान में शिफ्ट कर जाएगा. जहां एक तरफ राजस्थान भारी बारिश की मार से बेहाल है, वहीं मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड और छत्तीसगढ़ में अगले तीन दिनों तक भारी से बहुत भारी बारिश होने की आशंका जाहिर की है. मौसम विभाग ने इस ओर अलर्ट भी जारी कर दिया है.

बिहार और यूपी में बढ़ेगी बारिश
मौसम के जानकारों का कहना है कि इस समय पश्चिम बंगाल के ऊपर डीप डिप्रेशन बना हुआ है और इसके प्रभाव में घने बादलों ने डेरा जमा लिया है. मौसम विभाग का कहना है कि अगले तीन-चार दिनों तक ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, छत्तीसगढ़ के तमाम इलाकों में झमाझम बारिश का सिलसिला रहेगा और इसी के साथ बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश की तेजी बढ़ेगी.

इन सबके बीच मानसून का अक्ष उत्तर भारत में शिफ्ट कर जाएगा और इस वजह से हिमाचल और उत्तराखंड के साथ-साथ हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कहीं कहीं मध्यम से भारी बारिश होने की पूरी संभावना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें