scorecardresearch
 

राजस्थानः रोड शो और पूजा के बाद CM वसुंधरा राजे ने दाखिल किया पर्चा

राजस्थान विधानसभा चुनाव में टिकट बंटवारे को लेकर बीजेपी और कांग्रेस में जारी घमासान के बीच राज्य के शीर्ष नेता अपना नामांकन भरने लगे हैं. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने रोड शो के बाद आज शनिवार को पर्चा भर दिया.

X
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (फाइल/ PTI) मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (फाइल/ PTI)

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शनिवार को झालावाड़ के झालरापाटन विधानसभा सीट पर अपना नामांकन दाखिल कर दिया है जबकि कांग्रेस की ओर से राज्य के 2 बड़े प्रत्याशी अशोक गहलोत और सचिन पायलट सोमवार को पर्चा भरेंगे.

वसुंधरा राजे  ने आज दोपहर 12 बजे झालावाड़ से लेकर झालरापाटन तक रोड शो करने और मंदिरों में पूजा-अर्चना करने के बाद उन्होंने नामांकन दाखिल किया. पहले कहा जा रहा था कि वह दोपहर बाद 2 बजे के आसपास वसुंधरा झालावाड़ जिला कलेक्टर के परिसर में पहुंचकर नामांकन दाखिल करेंगी, लेकिन उन्होंने 1 बजे से पहले ही पर्चा भर दिया. इस मौके पर वसुंधरा राजे का परिवार भी उनके साथ था.

गहलोत-पायलट 19 को पर्चा भरेंगे

उधर, दिल्ली में टिकटों के लेकर माथापच्ची कर रहे राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट और कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत 19 नवंबर (सोमवार) को क्रमशः टोंक और जोधपुर के सरदारपुरा सीट पर से अपना नामांकन दाखिल करेंगे

साथ ही यह भी उम्मीद की जा रही है कि आज कांग्रेस अपने बचे 48 उम्मीदवारों की दूसरी सूची भी जारी कर सकती है. सूची जारी करने के बाद अशोक गहलोत और सचिन पायलट दोनों ही चुनावी रणनीति बनाने के लिए जयपुर रवाना हो जाएंगे.

कहा जा रहा है कि कांग्रेस के बीच टिकटों को लेकर इतना झगड़ा है कि राहुल गांधी ने शुक्रवार को 2 घंटे तक कांग्रेस के सभी बड़े नेताओं को बैठाकर समझाया, लेकिन फिर भी विवाद सूरज नहीं पाया है. राजपूतों के कम टिकट देने से मानवेंद्र सिंह नाराज हैं तो अशोक गहलोत अपने इलाके मारवाड़ में सचिन पायलट के हस्तक्षेप से परेशान हैं.

बदले जा सकते हैं टिकट

कांग्रेस के इतर बीजेपी में भी 38 नामों की सूची अभी आनी है. इसे लेकर नॉमिनेशन फाइल करने के बाद वसुंधरा राजे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से चर्चा करेंगी और कहा जा रहा है कि आज रात तक बीजेपी की अंतिम सूची भी आ जाएगी.

हालांकि कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पार्टियों में टिकट बंटवारे को लेकर घमासान मचा हुआ है. वसुंधरा सरकार के 3 मंत्री बतौर निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में उतर गए हैं तो कांग्रेस के करीब 18 बागियों ने मैदान में उतरने का ऐलान कर दिया है.

माना जा रहा है कि जिन टिकटों की घोषणा हो गई है वहां भी बीजेपी में 12 से 15 और कांग्रेस में 4 से 5 टिकटों पर फिर से विचार किया जा रहा है और इन जगहों पर उम्मीदवार बदले जा सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें