scorecardresearch
 

राजस्थान चुनाव: BJP-कांग्रेस की पहली लिस्ट आज! शाह-वसुंधरा में किसके कैंडिडेट पड़ेंगे भारी

शनिवार की बैठक में कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत मौजूद ना रहना कई संदेशों को पैदा दे गया. कांग्रेस के हलकों में कहा गया कि अशोक गहलोत को राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन पर चर्चा के लिए चंद्रबाबू नायडू से बात करने के लिए भेजा गया था.

फोटो- Vasundhararaje.in फोटो- Vasundhararaje.in

कांग्रेस और बीजेपी के इलेक्शन वॉर रूम में आज जबर्दस्त हलचल मची है. दोनों ही पार्टियां आज देर शाम अपने कैंडिडेट्स के नाम की पहली लिस्ट जारी कर सकती हैं. इसे लेकर दोनों दलों में नामों पर माथापच्ची की जा रही है और उम्मीदवार की जीतने की क्षमता पर बहस हो रही है. इसी सिलसिले में आज शाम 5 बजे उम्मीदवारों का नाम फ़ाइनल करने के लिए बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक है.

बीजेपी की इस बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, अरुण जेटली, नितिन गडकरी समेत कई बड़े नेता मौजूद रहेंगे. इसके अलावा राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मदन सैनी और बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओमप्रकाश माथुर मौजूद रहेंगे.

कट सकते हैं 85-90 विधायकों के टिकट

सूत्रों के मुताबिक बीजेपी के मौजूदा मंत्रियों और विधायकों में 85 से लेकर 90 लोगों के टिकट कट सकते हैं. केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के पहले बीजेपी उम्मीदवारों की एक सूची के साथ वसुंधरा राजे बीजेपी के संसदीय बोर्ड की बैठक में भाग लेंगी. इसके बाद 150 नामों की बीजेपी की पहली सूची प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने रखी जाएगी. वहां पर इस लिस्ट पर अंतिम मुहर लगेगी. बता दें कि राजस्थान विधानसभा में 200 सीटें हैं.

अमित शाह या वसुंधरा राजे किसका पलड़ा होगा भारी

इससे पहले शनिवार देर रात तक अमित शाह के साथ मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की बैठक चली. बैठक में एक-एक नामों पर सहमति बनाने की कोशिश की गई. अमित शाह ने अपने फीडबैक से तैयार की गई सूची से वसुंधरा राजे के नामों की सूची का मिलान कर हर नाम पर चर्चा की.

गौरतलब है कि टिकट वितरण को लेकर अमित शाह की तरफ से कृषि राज्य मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत अलग से रायशुमारी कर रहे थे. जबकि वसुंधरा राजे ने अपनी अलग सूची बनाई है. इससे पहले शनिवार दिनभर राजस्थान के प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर के घर पर वसुंधरा राजे राजस्थान के नेताओं के साथ बैठक करती रहीं.

कांग्रेस में गहलोत Vs पायलट

इधर कांग्रेस में भी सरगर्मी चल रही है. राजस्थान कांग्रेस के नेताओं ने करीब 165 नामों की एक सूची तैयार की है. इस लिस्ट को राहुल गांधी के सामने सहमति के लिए रखा जाएगा.

शनिवार को दिल्ली में कांग्रेस के वार रूम में कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की चेयरपर्सन कुमारी शैलजा, कांग्रेस के राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट, नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी और राजस्थान के प्रभारी अविनाश पांडे के साथ बैठक हुई जिसमें करीब 165 नामों की सूची बनाई गई है. हालांकि शनिवार की बैठक में कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत का मौजूद न रहना कई संदेश दे गया. कांग्रेस के हलकों में कहा गया कि अशोक गहलोत को राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन पर चर्चा के लिए चंद्रबाबू नायडू से बात करने के लिए भेजा गया था.

कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा ने कहा है कि अशोक गहलोत के आने पर इन सभी नामों पर उनके साथ चर्चा की जाएगी. कांग्रेस के अंदरखाने से खबर है कि टिकट वितरण को लेकर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच खींचतान चल रही है. दोनों ही नेता अपने अपने पसंदीदा लोगों को टिकट देना चाहते हैं और एक दूसरे के खेमे के लोगों का टिकट काटना भी चाहते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें