scorecardresearch
 

पंजाबः संगरूर में पुलिस ने मजदूरों पर बरसाईं लाठियां, CM आवास के बाहर कर रहे थे प्रदर्शन

पंजाब के संगरूर में सीएम आवास के बाहर प्रदर्शन कर रहे मजदूरों पर पुलिस ने भारी लाठीचार्ज किया है. पहले मजदूरों और पुलिस के बीच धक्कामुक्की हुई, इसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठियां भांजी.

X
 प्रदर्शनकारियों पर लाठियां बरसाती पुलिस (फोटो-ANI)
प्रदर्शनकारियों पर लाठियां बरसाती पुलिस (फोटो-ANI)

पंजाब के संगरूर में सीएम भगवंत मान के आवास के बाहर प्रदर्शन कर रहे मजदूरों पर लाठीचार्ज का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि पंजाब के 8 मजदूर संगठनों की ओर से धरना प्रदर्शन किया जा रहा था. जब दोपहर तीन बजे तक बात हीं बनीं तो फिर मजदूर संगठनों ने सीएम आवास की ओर कूच कर दिया. इसके बाद पुलिस ने मजदूरों पर लाठियां फटकारीं. इस लाठीचार्ज में कुछ मजदूर घायल भी हो गए हैं.

मुख्यमंत्री भगवंत मान के आवास के बाहर पंजाबभर से आए मजदूर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे. मजदूरों ने पहले पटियाला बाईपास पर धरना दिया. इसके बाद मुख्यमंत्री आवास की ओर बढ़ गए. 

मजदूरों के प्रदर्शन को देखते हुए सीएम आवास के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था. जैसे ही प्रदर्शनकारी मुख्यमंत्री आवास की ओर बढ़े, तो पुलिस के साथ पहले धक्मा-मुक्की हुई. इसके बाद पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाईं.

संगरूर के एसएसपी सुरेंद्र लांबा ने कहा कि कोई लाठीचार्ज नहीं हुआ. सिर्फ धक्का-मुक्की हुई थी और प्रदर्शनकारियों को समझाकर पीछे किया गया था.

क्यों हो रहा है धरना प्रदर्शन
 

पंजाब में खेतिहर मजदूरों की मांग है कि पंचायती जमीन में मजदूरों को तीसरा हिस्सा खेती करने के लिए मिले. साथ ही जो दिहाड़ी मिलती है उसका रेट फिक्स किया जाए. इसे 700 रुपये प्रतिदिन किया जाए. इसके अलावा पंचायत की ओर से पांच-पांच मरले के प्लॉट मजदूरों को घर बनाने के लिए दिए जाएं. माइक्रोफाइनेंस कंपनियों का कर्ज माफ किया जाए. मनरेगा में लगातार काम दिया जाए. मजदूरों को 5 हजार रुपये हर महीना पेंशन दी जाए. 

अपनी इन्हीं मांगों को लेकर पिछले कई महीनों से खेतिहर मजदूर किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. फिलहाल मजदूर संगठनों को 21 दिसंबर को मुख्यमंत्री के साथ मीटिंग का समय दिया गया है, जिसके बाद धरना समाप्त किया गया.


ये भी देखें
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें