scorecardresearch
 

Punjab Cabinet: चन्नी कैबिनेट के शपथ ग्रहण से पहले कांग्रेस में खींचतान, राणा गुरजीत के खिलाफ 7 विधायक

पंजाब के नए सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के कैबिनेट विस्तार में फिर से पेंच फंसता नजर आ रहा है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक गुरकीरत कोटली का नाम पहले सूची में शामिल था जिसे काका रणदीप सिंह को जगह देने के लिए बाहर कर दिया गया. कोटली नाराज हो गए और कांग्रेस नेता उनको रात भर मनाते रहे.

पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी. (फाइल फोटो) पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एक विधायक को लेकर पार्टी के कई वरिष्ठ विधायक नाराज
  • आज शाम होना है चन्नी कैबिनेट का शपथ ग्रहण
  • मंत्रिमंडल को लेकर कांग्रेस विधायकों में आपसी रार

पंजाब कैबिनेट (Punjab cabinet oath ceremony) के लिए लगातार अंतिम दौर तक उठापटक और रस्साकशी जारी है. तमाम विधायक पद हासिल करने की कोशिश में लगे हैं. ताजा घटनाक्रम में पूर्व कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह के नाम को लेकर पार्टी के ही 7 विधायकों ने विरोध दर्ज कराया है. पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को चिट्ठी लिखकर राणा गुरजीत सिंह को कैबिनेट में शामिल ना करने की मांग की गई है. 

दरअसल, मंत्री रहते हुए राणा गुरजीत सिंह माइनिंग के टेंडर अपने नौकरों के नाम पर लेने के आरोपी रह चुके हैं. इसी को आधार बनाते हुए सात विधायकों ने पार्टी प्रमुख को चिट्ठी लिखकर उन्हें मंत्री न बनाने की मांग रखी है.

गुरकीरत कोटली को लेकर भी मची हलचल

वहीं, कांग्रेस पार्टी सूत्रों के मुताबिक, गुरकीरत कोटली का नाम पहले सूची में शामिल था जिसे काका रणदीप सिंह को जगह देने के लिए बाहर कर दिया गया है. इससे कोटली नाराज हो गए और कांग्रेस नेता उनको रात भर मनाते रहे. सूत्रों के मुताबिक उनका नाम फिर से सूची में डाल दिया गया है लेकिन अब किसी एक विधायक को बाहर करना होगा क्योंकि सिर्फ 15 ही पद भरे जाने हैं.

अब विधायक कुलजीत सिंह नागरा का नाम बाहर किए जाने की सूचना है जिससे उनके समर्थक नाराज हो गए हैं. काका रणदीप नाभा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की पसंद माने जा रहे हैं इसलिए उनका नाम सूची से बाहर नहीं किया जा सकता है.

कुल मिलाकर आज शाम करीब 4.30 बजे होने जा रहे शपथ ग्रहण समारोह से ऐन पहले भी पंजाब कांग्रेस में रस्साकशी नजर आ रही है. जब चरणजीत सिंह चन्नी को सीएम चुना गया, उस वक्त भी हालात कुछ ऐसे ही थे. 

इसपर भी क्लिक करें- कैप्टन के बागी तेवर- राहुल और प्रियंका अनुभवहीन, सिद्धू के खिलाफ उतारूंगा मजबूत उम्मीदवार
 

सीएम व डिप्टी सीएम खेतों का कर रहे दौरा

उधर, शपथग्रहण से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा कपास की फसल वाले खेतों का दौरा करते नजर आए. यहां कई इलाकों में फसलों पर पिंक बॉलवर्म, सफेद सुंडी का हमला हुआ है. पंजाब के बठिंडा एरिया में काफी किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा है. इसी का जायजा लेने बठिंडा में किसानों के खेतों का दौरा सीएम व डिप्टी सीएम कर रहे हैं. दोनों नेता खुद देख रहे हैं कि किस तरह से सफेद सुंडी कपास की फसल को तबाह कर रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें