scorecardresearch
 

पंजाबः नवजोत सिंह सिद्धू के पैर में लगी चोट, खून बहने के बाद भी जारी रखी जनसभा

पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) की कमान संभालने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू आज मंगलवार को नवांशहर पहुंचे. लेकिन खटखर कलां गांव में जनसभा के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू के दाहिने पैर के अंगूठे का नाखून पूरी तरह से टूट गया.

नवजोत सिंह सिद्धू आज नवांशहर पहुंचे लेकिन इस दौरान उनका पैर चोटिल हो गया (फोटो-ITGD) नवजोत सिंह सिद्धू आज नवांशहर पहुंचे लेकिन इस दौरान उनका पैर चोटिल हो गया (फोटो-ITGD)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू का ये पहला दौरा
  • सिद्धू पैर में चोट लगने के बाद भी जारी रखी यात्राः मीडिया मैनेजर
  • नवांशहर के भगत सिंह के गांव खटखड़ कलां में किसानों ने किया विरोध

पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) की कमान संभालने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) आज मंगलवार को नवांशहर पहुंचे. लेकिन जिले के खटखर कलां गांव में जनसभा के दौरान सिद्धू के दाहिने पैर के अंगूठे का नाखून पूरी तरह से टूट गया जिससे उनके पैर से खून बहने लग गया.

सिद्धू के मीडिया मैनेजर स्मित सिंह ने बताया कि सिद्धू ने पैर से नाखून टूटने की वजह से खून बह लग गया लेकिन लगातार खून बहने के बावजूद उन्होंने अपनी यात्रा जारी रखी. चोट लगने के बाद सिद्धू ने प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल गए और वहां से इलाज कराया.

नवजोत सिंह सिद्धू आज फगवाड़ा और जालंधर में लोगों से मिले. जबकि अमृतसर में जब उनके पैर से खून बह रहा था उस समय सैकड़ों लोगों ने उनका स्वागत किया.

सिद्धू का जोरदार अंदाज में स्वागत करते समर्थक
सिद्धू का जोरदार अंदाज में स्वागत करते समर्थक

पंजाब कांग्रेस की कमान संभालने के बाद सिद्धू अब अपनी पकड़ मजबूत करने में जुट गए हैं. वर्किंग प्रेसिडेंट और मंत्रियों से मुलाकात के बाद नवजोत सिंह सिद्धू आज मंगलवार को नवांशहर पहुंचे. यहां पर सिद्धू पुराने कांग्रेस नेताओं और विधायकों से मुलाकात की. नवांशहर जाते वक्त सिद्धू का यूथ कांग्रेस द्वारा स्वागत किया गया. 

जोरदार स्वागत से अभिभूत दिखे सिद्धू
जोरदार स्वागत से अभिभूत दिखे सिद्धू

किसानों ने किया विरोध

इससे पहले नवांशहर के शहीद भगत सिंह के गांव खटखड़ कलां में शहीद भगत सिंह को श्रद्धांजलि देने पहुंचे नवनियुक्त पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू का कीर्ति किसान यूनियन ने विरोध किया. किसानों ने भगत सिंह के गांव आकर उन्हें श्रद्धांजलि देने के सिद्धू के कार्यक्रम को सियासी स्टंट बताया.

इसे भी क्लिक करें --- पंजाब कांग्रेस के नए 'सरदार' बने नवजोत सिंह सिद्धू, समर्थकों में खुशी की लहर, जानें किसने दी बधाई

किसानों ने कहा कि जहां एक ओर दिल्ली की सीमाओं पर किसान लगातार आंदोलन कर रहे हैं और इस दौरान कई किसानों की जान भी जा चुकी है तो वहीं सिद्धू और कांग्रेस के नेता शहीद भगत सिंह के गांव में आकर सियासी ड्रामा कर रहे हैं और इन नेताओं को सिर्फ चुनाव की पड़ी है.

नवांशहर में कांग्रेस की पकड़ मजबूत

नवांशहर के इलाके में कांग्रेस की पकड़ मजबूत है, ऐसे में सिद्धू यहीं से अपने मिशन की शुरुआत की. यहां स्थानीय नेताओं और विधायकों से मुलाकात करने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू अमृतसर (Amritsar) पहुंचे. जहां हजारों की संख्या में लोगों ने स्वागत किया.

पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू का ये पहला दौरा रहा, ऐसे में हर जगह कार्यकर्ता उनका जोरदार अंदाज में स्वागत कर रहे हैं.

एक ओर सिद्धू लगातार अपने लोगों से मिल रहे हैं, तो दूसरी ओर कल यानी बुधवार को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सभी विधायकों और सांसदों की बैठक बुलाई है. सिद्धू को प्रदेश कांग्रेस की कमान मिलने के बाद से ही कैप्टन शांत हैं, ऐसे में हर किसी की नज़र अब इस मीटिंग पर टिकी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें