scorecardresearch
 

लखनऊ के बाद गुरदासपुर में Pitbull का अटैक, 13 साल के बच्चे पर हमला, नोच डाला कान

Gurdaspur: गुरदासपुर में पिता के साथ स्कूटर पर जा रहे 13 साल के बच्चे पर पिटबुल ने हमला कर दिया. हमले के कारण बच्चा स्कूटर से नीचे गिर गया. बच्चे के गिरते ही पिटबुल ने उसका कान नोच डाला. तभी बच्चे के पिता ने डंडे से पिटबुल को भगाया. इस हमले में बच्चा बुरी तरह घायल हो गया है. उसका इलाज बटाला के अस्पताल में किया जा रहा है.

X
घायल बच्चे का चल रहा इलाज. (पिटबुल की सांकेतिक तस्वीर)
घायल बच्चे का चल रहा इलाज. (पिटबुल की सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पिटबुल ने नोचा 13 साल के बच्चे का कान
  • पिता ने डंडा मारकर बचाई बेटे की जान

पंजाब के गुरदासपुर में भी लखनऊ जैसी घटना देखने को मिली, जहां 13 साल के बच्चे पर पिटबुल ने हमला कर दिया. गनीमत रही कि बच्चे की जान बाल-बाल बच गई. लेकिन इस हमले में मासूम बुरी तरह घायल हो गया. उसे बटाला के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां उसका इलाज जारी है.

जिले के कोटली भाम सिंह इलाके में 13 साल का गुरप्रीत सिंह पिता के साथ स्कूटर पर कहीं जा रहा था. तभी रास्ते में पिटबुल ने उस पर हमला कर दिया. मासूम गुरप्रीत स्कूटर से नीचे गिर गया, जिसके बाद पिटबुल ने उसके कान को बुरी तरह नोच डाला. लेकिन पिता ने जैसे-तैसे जान पर खेलकर अपने बेटे को कुत्ते से बचा लिया. वहीं, पिटबुल का मालिक मौके से कुत्ते को लेकर घर चला गया. फिलहाल इस बारे में पुलिस में कोई भी रिपोर्ट दर्ज नहीं करवाई गई है.

घायल बच्चे की दादी हरदीप कौर का कहना है कि उसका बेटा और पोता किसी काम से स्कूटर पर बैठकर दूसरे गांव जा रहे थे. रास्ते में एक शख्स पिटबुल को घुमा रहा था. जैसे ही इनका स्कूटर वहां से गुजरा, पिटबुल उन्हें देखकर भौंकने लगा और स्कूटर की तरफ दौड़ने की कोशिश करने लगा.

मालिक के हाथ से चेन छूट गई और कुत्ते ने सीधे बच्चे की टांग को पकड़ लिया. इससे बच्चा स्कूटर से नीचे गिर गया और इसी दौरान पिटबुल ने सीधे मासूम के कान पर हमला कर दिया. उसने बच्चे के कान को बुरी तरह नोच डाला. यह देख पिता ने डंडे से कुत्ते को भगाया, नहीं तो बच्चे की जान भी जा सकती थी.

पिटबुल ने ली बुजुर्ग महिला की जान

बता दें कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कैसरबाग इलाके में भी बीती 12 जुलाई को पालतू पिटबुल कुत्ते ने एक 80 साल की महिला को नोच खाया, जिससे उनकी दर्दनाक मौत हो गई. कैसरबाग थाना अध्यक्ष ने बताया कि 80 वर्षीय रिटायर्ड टीचर पर उसके पिटबुल कुत्ते ने हमला कर दिया था. कुत्ते ने इस तरह काटा था कि महिला का मांस तक अलग हो गया था. उस दौरान महिला घर में अकेली थी. उनका जिम ट्रेनर बेटा जिम गया हुआ था. महिला के पति की पहले ही मौत हो चुकी है. मृतक सुशीला त्रिपाठी कैसरबाग के बंगाली टोला इलाके में परिवार के साथ रहती थीं. मृतक महिला का बेटा अमित त्रिपाठी अलीगंज स्थित कपूरथला में जिम ट्रेनर है.  

(गुरदासपुर से बिशंबर बिट्टू की रिपोर्ट)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें