scorecardresearch
 

आतंकी हमले पर सियासत गर्म, PM के PAK दौरे पर उठे सवाल

पठानकोट  में आतंकी हमले के बाद सियासी महौल गर्म हो गया है. कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया पाकिस्तान दौरे पर सवाल खड़े किए हैं, वहीं केंद्र सरकार से विदेश नीति में बदलाव की मांग की है.

मोदी-नवाज का पुतला दहन करते कांग्रेस कार्यकर्ता मोदी-नवाज का पुतला दहन करते कांग्रेस कार्यकर्ता

पठानकोट में एयरफोर्स स्टेशन पर आतंकी हमले के बाद देश में सियासी माहौल गर्म हो गया है. कांग्रेस ने इसके लिए सीधे तौर पर केंद्र सरकार की विदेश और कूटनीति को जिम्मेदार माना है. सवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हालिया पाकिस्तान दौरे को लेकर भी उठने लगे हैं. मोदी-नवाज की दोस्ती को भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं समेत विपक्षी दलों के नेताओं ने निशाने पर लिया है.

हमले के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पंजाब में प्रदर्शन करते हुए जहां 'पाकिस्तान मुर्दाबाद' के नारे लगाए, वहीं मोदी-नवाज के पुतले भी फूंके. भोपाल में भी यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे और मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर की पठानकोट हमले की कड़ी निंदा की. उन्होंने शहीदों के परिजनों को सांत्वना दी.

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने पाकिस्तान से उफा में बातचीत और प्रधानमंत्री के औचक लाहौर दौरे पर सवाल उठाए और कहा कि सरकार को अपनी कूटनीति और विदेश नीति पर नए सिर से विचार करने की जरूरत है.

BJP को बदलना होगा पुराना रुख
जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि आतंकी हमला प्रधानमंत्री मोदी की लिए बड़ी चुनौती है. अब्दुल्ला ने कहा कि बीजेपी को अब अपना पुराना रुख बदलना पड़ेगा कि आतंक और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते.

यह सवाल करने का वक्त नहीं: लालू
आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद ने हमले की निंदा करते हुए इस पर सियासत करने वालों को निशाने पर लिया. उन्होंने कहा, 'ये भारत की विदेश नीति पर सवाल करने का सही वक्त नहीं. ऐसे हमले बर्दाश्त नहीं किए जा सकते.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने हमले की निंदा की और कहा कि कांग्रेस आतंकी पर भी सियासत करने से नहीं चूक रही है. उन्होंने कहा, 'राजनाथ सिंह जी ने सही कहा कि हम ऐसे हमलों का मुंहतोड़ जवाब देंगे.'

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि जो लोग शांति नहीं चाहते हैं वो समय-समय पर ऐसे हमले करते रहते हैं. हम उनको मुंहतोड़ जवाब देंगे.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पठानकोट हमले को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है. उन्होंने पूरे राज्य में हाई अलर्ट का आदेश दे दिया है. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा, 'आतंकी भारत-पाकिस्तान के बीच बातचीत को बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं और यह हमला उसी की प्रतिक्रिया है.'

कश्मीर के बाद अब निशाने पर पंजाब: राउत
शिवसेना नेता संजय राउत ने सरकार को आगाह करते हुए कहा कि आतंकियों ने कश्मीर के बाद अब पंजाब को निशाने पर लिया है और यह अधि‍क बड़ा खतरा है.

मुंहतोड़ जवाब कब देंगे: पीएन हून
रक्षा विशेषज्ञ पीएन हून ने कहा कि राजनाथ सिंह कहते हैं कि हम आतंकी हमलों का मुंहतोड़ जवाब देंगे, अगर ऐसा है तो अब नहीं देंगे तो कब देंगे?

कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ इस लड़ाई में कांग्रेस सरकार के साथ है और हम सभी को मिलकर लड़ना चाहिए.

दुखद है कि यह बातचीत के बाद हुआ: अमरिंदर सिंह
पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह ने कहा कि घटना निंदनीय है, लेकिन उससे भी दुखद यह है कि यह सब पाकिस्तान के साथ बातचीत की प्रक्रिया शुरू होने के बाद हुआ है.

कांग्रेस प्रवक्ता आरएस सुरजेवाला ने कहा कि हमारी पार्टी प्रधानमंत्री से यह मांग करती है कि वह आतंकवादी हमले के इस मसले को पाकिस्तान के साथ बातचीत में शामिल करे.

आतंकियों के उकसावे में न आएं भारत-पाक
सीपीआई ने हमले की निंदा की और भारत व पाकिस्तान दोनों से हमले के मद्देनजर उनके बीच जारी शांति वार्ता को पटरी से उतारने के लिए आतंकवादी संगठनों के ‘उकसावे के जाल’ में नहीं फंसने का अनुरोध किया. पार्टी के राष्ट्रीय सचिव डी राजा ने कहा, 'हम हमले की कड़ी निंदा करते हैं. यह प्रधानमंत्री के पाकिस्तान दौरे के बाद हुई है. दोनों देशों द्वारा किसी तरह की बातचीत प्रक्रियाओं और किए गए पहलों को पटरी से उतारने के लिए आतंकी संगठनों का यह एक प्रयास प्रतीत होता है.'

उन्होंने कहा, 'दोनों देशों को आतंकी संगठनों के उकसावे की जाल में नहीं फंसना चाहिए. उन्हें एक कड़ा संदेश दिया जाए कि वह बातचीत की प्रक्रिया पटरी से नहीं उतारेंगे.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×