scorecardresearch
 

ग्लैमर की दुनिया से राजनीति में आने वाले Babul Supriyo ने अचानक क्यों छोड़ दी पॉलिटिक्स?

ग्लैमर की दुनिया से राजनीति में आने वाले Babul Supriyo ने अचानक क्यों छोड़ दी पॉलिटिक्स?

पश्चिम बंगाल में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. बाबुल सुप्रियो ने राजनीति से संन्यास ले लिया है. साथ ही बीजेपी को भी बाय-बाय कर दिया है. ग्लैमर की दुनिया से राजनीति में आने वाले गायक बाबुल सुप्रियो ने अपना दर्द सोशल मीडिया के जरिए बयां किया. बाबुल सुप्रियो ने सोशल मीडिया में लिखे अपने पोस्ट में कई सवाल भी खड़े किए हैं. 2014 का पहिया 2021 में घूम गया है. प्लेबैक सिंगर ,लाइव परफॉर्मर , टेलिविजन हॉस्ट, एक्टर से राजनेता बने थे बाबुल सुप्रियो. तब बात थी 2014 की लेकिन 2021 में उनका मन खट्टा हो गया है. 7 साल में ही नेतागीरी से ऐसा जी भरा कि राजनीति को ही अलविदा कह दिया. पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने अपने मन की बात रखने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है. उन्होंने एक पोस्ट में सबकुछ उड़ेल दिया. कुछ दर्द तो कुछ गिले शिकवे, कहीं बीजेपी की तारीफ की तो कहीं सवाल भी उठाए. देखें ये वीडियो.

BJP MP Babul Supriyo, who announced his decision to quit politics in a long Facebook post on Saturday, edited a paragraph, where he had said that he wouldn't join any other party, soon after. Initially, Babul Supriyo wrote that after speaking to my father, mother, wife daughter and friends and understanding everything, I am saying that I am not switching over to any other party. I am one team player! Have always supported one team Mohun Bagan. Have done only one party BJP. That's it. Watch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें