scorecardresearch
 

‘स्क्रैप पॉलिसी से 40% सस्ते होंगे वाहन’, लोकसभा में बोले नितिन गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज लोकसभा में ‘वाहन स्क्रैप नीति’ को लेकर बयान दिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि इस नीति से प्रदूषण को कम करने के साथ-साथ वाहनों की लागत 40% तक कम करने में मदद मिलेगी.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो) केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ‘पेट्रोल-डीजल वाहनों के बराबर होगी ई-वाहनों की कीमत’
  • ‘लागत घटने से निर्यात में प्रतिस्पर्धी बनेंगी भारतीय कंपनिया’
  • ‘एक साल में 100% मेड इन इंडिया होंगी लिथियम बैटरी’

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज लोकसभा में ‘वाहन स्क्रैप नीति’ को लेकर बयान दिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि इस नीति से प्रदूषण को कम करने के साथ-साथ वाहनों की लागत 40% तक कम करने में मदद मिलेगी.

‘रिसाइकल से घटेगी लागत’
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि स्क्रैप नीति से देश में स्क्रैपिंग सेंटर बनेंगे. इससे दुनिया के उन छोटे देशों से स्क्रैप के लिए वाहनों को भारत लाया जाएगा जहां इसके लिए सुविधा नहीं हैं. इससे देश में एल्युमीनियम, तांबा और रबर की रिसाइकिलिंग को बढ़ावा मिलेगा और वाहन कंपनियों को रिसाइकिलिंग से कच्चा माल प्राप्त होगा, जिससे वाहनों की लागत 40% तक सस्ती हो जाएगी.

‘निर्यात में प्रतिस्पर्धी बनेंगी भारतीय कंपनिया’
गडकरी ने कहा कि देश की 2-व्हीलर कंपनियां जिनमें हीरो, बजाज और टीवीएस शामिल हैं, यह अपने कुल उत्पादन का 50% करीब निर्यात करती हैं. स्क्रैप पॉलिसी में रिसाइकिलिंग को बढ़ावा मिलने से इनकी लागत और कम होगी और इसके चलते दुनिया में उनका उत्पाद और प्रतिस्पर्धी बनेगा.

‘ऑटो मोबाइल हब बनेगा देश’
नितिन गडकरी ने कहा कि वाहन स्क्रैप पॉलिसी से आने वाले 5 साल में देश ऑटो मोबाइल का हब बन जाएगा. हर जिले में वाहनों की फिटनेस चेक करने के लिए फिटनेस और पॉल्यूशन सेंटर बनाए जाएंगे.

‘100% मेड इन इंडिया होंगी बैटरी’
नितिन गडकरी ने कहा कि अभी 81% लिथियम आयन बैटरियां देश में बन रही हैं. अगले साल तक 100% लिथियम आयन बैटरी मेड इन इंडिया और मेक इन इंडिया होगी. 

‘पेट्रोल-डीजल वाहनों के बराबर होगी कीमत’
गडकरी ने सदन में कहा कि जैसे जैसे देश में इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग बढ़ेगा, तो उनका अनुमान है कि अगले दो साल के भीतर देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत मौजूदा पेट्रोल-डीजल वाहनों के अनुरूप होगी

‘कम होगा प्रदूषण’
 गडकरी ने कहा कि पुराने वाहन अधिक प्रदूषण करते हैं. ये फिट वाहनों की तुलना में 10 से 12 गुना ज्यादा प्रदूषण करते हैं. इसलिए स्क्रैप पॉलिसी ऐसी विन विन पॉलिसी होगी जिसे सामान्य जन मानस को फायदा होगा. प्रदूषण और फ्यूल के खर्च दोनों में कमी आएगी.

ये भी पढ़ें:

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें