scorecardresearch
 
बिजनेस

ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन

ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन
  • 1/7

ईवी मोटर्स इंडिया लगभग 20 करोड़ डॉलर के निवेश से अगले पांच साल में 6,500 इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग केंद्र लगाएगी. कंपनी ये चार्जिंग केंद्र डीएलएफ, एबीबी इंडिया और डेल्टा इलेक्ट्रॉनिक्स के साथ मिलकर लगाएगी.

ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन
  • 2/7
कंपनी के अनुसार इस चार्जिंग केंद्र का नाम 'प्ल्ग एन गो' होगा और इन्हें विभिन्न कंपनियों के परिसर और रिहायशी परिसरों में लगाए जाएंगे. ये केंद्र कंपनी के क्लाउड आधारित एकीकृत साफ्टवेयर प्लेटफार्म से जुड़े होंगे.
ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन
  • 3/7
ईवी मोटर्स इंडिया के प्रबंध निदेशक विनीत बंसल ने कहा, 'देश में आने वाले समय में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए रियल एस्टेट कंपनियों, वाहन के मूल मूल कल-पुर्जे बनाने वाली कंपनियों (ओईएम) तथा चार्जर विनिर्माताओं के बीच एक समन्वित रुख जरूरी है.'
ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन
  • 4/7
'प्ल्ग एन गो' की एक साल में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में 20 केंद्र स्थापित करने की योजना है. उसके बाद बेंगलुरू, चंडीगढ़, जयपुर, अहमदाबाद, कानपुर, कोलकाता, मुंबई, पुणे, हैदराबाद, अमृतसर, भुवनेश्वर, कोचीन, इंदौर और चेन्नई में चार्जिंग केंद्र लगाए जाएंगे.
ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन
  • 5/7
इसके अलावा दिल्ली का स्टार्टअप इन सभी शहरों में सेवा केंद्र भी स्थापित करेगा. कंपनी के अनुसार, 'वह अगले पांच साल में भागीदारी के तहत 6,500 चार्जिंग केंद्र लगाएगी, इसमें लगभग 20 करोड़ डालर के निवेश की जरूरत होगी.'
ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन
  • 6/7
ईवी मोटर्स दोपहिया, तिपहिया, यात्री वाहन और बस समेत सभी प्रकार के वाहनों के लिए चार्जिंग उपकरण उपलब्ध कराएगी.
ई-वाहनों पर पूरा फोकस, देश में खुलेंगे 6500 चार्जिंग स्टेशन
  • 7/7
वहीं केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि देश में इलेक्ट्रिक वाहनों का उत्पादन बढ़ाने और अगले 5 साल में कुल वाहनों में इनकी हिस्सेदारी 15 प्रतिशत करने के लिए योजना तैयार कर ली गई है. गडकरी की मानें तो सार्वजनिक स्थानों तथा सरकारी पार्किंग आदि में चार्जिंग संरचना तैयार करने की योजना है.