scorecardresearch
 

टीएमसी ने फूंका बिगुल, शुरू किया 'Mark Yourself Safe from BJP' कैंपेन

टीएमसी का कहना है कि इस कैंपेन के जरिए वो प्रदेश के लोगों को भगवा पार्टी द्वारा देश में किए जा रहे गलत कार्यों के खिलाफ एकजुट करने का प्रयास कर रही है.

बीजेपी के खिलाफ टीएमसी की सोशल मीडिया मुहिम (फाइल फोटो) बीजेपी के खिलाफ टीएमसी की सोशल मीडिया मुहिम (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 2021 विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक घमासान
  • टीएमसी-बीजेपी लगातार एक दूसरे पर कर रहीं हमला
  • दुर्गापूजा के बहाने बीजेपी के खिलाफ एकजुट करने का प्रयास

पश्चिम बंगाल में साल 2021 में विधानसभा चुनाव होने वाला है. प्रदेश में राजनीतिक घमासान पहले ही शुरू हो चुका है. लेकिन इस बार टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) ने सोशल मीडिया पर बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ एक मुहिम शुरू की है. जिसका नाम दिया है- 'मार्क योर सेल्फ सेफ फ्रॉम बीजेपी'. यानी कि लोग मार्क कर बताइए आप बीजेपी से सुरक्षित हैं. आम तौर पर किसी भी आपदा की स्थिति में फेसबुक पर इस तरह का कैंपेन चलाया जाता है, जिसमें परिजन या दोस्त खुद को मार्क करते हुए बताते हैं कि वो सेफ हैं, सुरक्षित हैं. इस बार ऐसे कैंपेन का सहारा राजनीतिक नजरिए से लिया गया है.   

टीएमसी का कहना है कि इस कैंपेन के जरिए वो प्रदेश के लोगों को भगवा पार्टी द्वारा देश में किए जा रहे गलत कार्यों के खिलाफ एकजुट करने का प्रयास कर रही है. पार्टी ने पहले ही savebengalfrombjp.com वेबसाइट लॉन्च कर रखी है, जिसमें अब तक 1,11,000 लोग खुद को मार्क कर चुके हैं. वेबसाइट पर प्रत्येक घंटे लोगों की संख्या में इजाफा हो रहा है. यहां तक कि इस कैंपेन के लिए फेसबुक पेज भी बनाया गया है जिसपर अब तक 80,000 सदस्य खुद को रजिस्टर्ड करा चुके हैं.  

देखें: आजतक LIVE TV

फेसबुक पेज पर लिखा गया है- बंगाल के मैदान पर खड़े होकर धर्म बांटने की कोशिश कर रही है बीजेपी. नफरत और भेदभाव का जहर फैलाने और दूसरों को सुरक्षित रखने की इस साजिश से सावधान रहें.  https://www.savebengalfrombjp.com/en पर जाकर खुद को बीजेपी से बचाएं.  

टीएमसी ने ट्विटर पेज पर "Banglar Gorbo Mamata" नाम से एक पोस्ट शेयर किया है, जिसमें कहा गया है कि बीजेपी बांटने वाली राजनीति का प्रचार कर बंगाल का सामाजिक ताना-बाना खराब कर रही है. बीजेपी अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ हिंसा और महिलाओं पर अत्याचार को बढ़ावा देने में विश्वास करती है. 

जाहिर है प्रदेश में विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए राजनीति पहले से गरमाई हुई है. सत्तारूढ़ पार्टी टीएमसी और बीजेपी के बीच जबरदस्त तकरार देखने को मिल रही है. दोनों राजनीतिक दल सभी मुद्दों को लेकर लगातार एक दूसरे पर हमला कर रहे हैं.     

टीएमसी सूत्रों ने बताया, ''लोगों के लिए यह समझना जरूरी है कि बीजेपी अफवाह फैलाने की रणनीति पर काम कर रही है. इसलिए हमलोग वेबसाइट लेकर आए हैं, जिसमें लोग एनरोल कराकर खुद को अफवाह की राजनीति यानी कि बीजेपी से सुरक्षित बता सकते हैं..''

जाहिर है दुर्गापूजा का माहौल है. ऐसे में कोलकाता समेत पूरे पश्चिम बंगाल में पूजा को लेकर काफी धूम-धाम रहती है, ऐसे में लोग सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव होते हैं. पार्टी को उम्मीद है कि इस मौके पर सोशल मीडिया  कैंपेन चलाकर ज्यादा से ज्यादा लोगों को बीजेपी के खिलाफ लामबंद किया जा सकता है.    

 
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें