scorecardresearch
 

प्रियंका गांधी ने फोन पर लिया हालचाल, आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे डॉक्टर कफील

इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद डॉ. कफील खान की रिहाई संभव हो सकी है, जिसका श्रेय कांग्रेस लेने की कोशिश में है. कांग्रेस ने डॉक्टर कफील खान की रिहाई के लिए मुहिम भी चलाई थी.

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जयपुर में आज दोपहर दो बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस होगी
  • एक सितंबर को मथुर जेल से रिहा हुए थे कफील
  • इंडिया टुडे से खास बातचीत में सुनाई थी आपबीती

8 महीने बाद मुथरा जेल से डॉक्टर कफील खान एक सितंबर को रिहा हो गए. उनकी रिहाई के बाद कांग्रेस की राष्टीय महासचिव प्रियंका गांधी ने उनसे फोन पर बात करके हालचाल जाना. इधर, गुरुवार को डॉक्टर कफील खान जयपुर में दोपहर दो बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे.

बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद डॉ. कफील खान की रिहाई संभव हो सकी है, जिसका श्रेय कांग्रेस लेने की कोशिश में है. कांग्रेस ने डॉक्टर कफील खान की रिहाई के लिए मुहिम भी चलाई थी. मथुरा जेल के गेट पर कांग्रेस नेता डॉ. कफील की अगुवाई करने के लिए पहुंच गए थे. इसके बाद कांग्रेस नेता कफील खान को अपने साथ लेकर राजस्थान चले गए.

इधर, रिहाई के बाद डॉक्टर कफील खान ने बुधवार को इंडिया टुडे से खास बातचीत की थी. डॉक्टर कफील खान ने आपबीती सुनाते हुए कहा कि उन्हें जेल में शारीरिक और मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया. शुरू के 4 से 5 दिन तक खाना ही नहीं दिया गया. उन्होंने कहा कि मैं बीआरडी ऑक्सीजन मामले के बाद जेल से बाहर आया तो मुझे राहत महसूस हुई थी, लेकिन इस बार मुझे आघात लगा है.

गौरतलब है कि डॉ कफील खान को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), एनआरसी और एनपीए के विरोध के दौरान कथित रूप से भड़काऊ भाषण देने के आरोप में उत्तर प्रदेश पुलिस ने गिरफ्तार किया था. हालांकि इलाहाबाद हाई कोर्ट ने डॉ कफील को तुरंत रिहा करने के आदेश दिए. कोर्ट ने आदेश सुनाते हुए कहा था कि एनएसए के तहत डॉक्टर कफील को हिरासत में लेना और हिरासत की अवधि को बढ़ाना गैरकानूनी है. साथ ही यह टिप्पणी की थी कि डॉ. कफील का भाषण भड़काऊ न होकर देश की एकता और अखंडता का सम्मान करने वाला है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें