scorecardresearch
 

यशवंत सिन्हा की हार इतनी बड़ी ना होती.... कैसे बिखरा विपक्ष, किस-किस ने की क्रॉस वोटिंग?

राष्ट्रपति चुनाव में जमकर क्रॉस वोटिंग देखने को मिली है. आंकड़ों के मुताबिक 17 सांसद और 104 विधायकों ने पार्टी लाइन हटकर क्रॉस वोटिंग की है. मतलब उन्होंने अपने नेता की बात ना मानते हुए अंतरात्मा की आवाज सुनी है. 

X
यशवंत सिन्हा यशवंत सिन्हा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • असम में सबसे ज्यादा हुई क्रॉस वोटिंग देखने को मिली
  • राजद के कम से कम 6 से 8 विधायकों का क्रॉस वोट

देश के राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू ने एकतरफा जीत दर्ज की है. उनके प्रतिद्वंदी यशवंत सिन्हा विपक्ष में हुए बिखराव की वजह से बड़े अंतर से हार गए हैं. उनकी हार में क्रॉस वोटिंग भी एक बड़ी वजह सामने आई है. आंकड़ों के मुताबिक 17 सांसद और 104 विधायकों ने पार्टी लाइन हटकर क्रॉस वोटिंग की है. मतलब उन्होंने अपने नेता की बात ना मानते हुए अंतरात्मा की आवाज सुनी है. 

इसका एक उदाहरण उत्तराखंड में देखने को मिला जहां पर कांग्रेस के एक विधायक ने मुर्मू के समर्थन में क्रॉस वोटिंग की. असल में उत्तराखंड से द्रौपदी मुर्मू को 70 में से 51 वोट हासिल हुए, इसी लिस्ट में एक कांग्रेस विधायक का नाम भी बताया जा रहा है. इस बारे में जब कांग्रेस प्रवक्ता गरिमा दसौनी से बात की गई तो उन्होंने इस पर चिंता जाहिर की. उनके मुताबिक इस मामले की जांच की जाएगी. वहीं सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उस कांग्रेस विधायक का धन्यवाद अदा किया है. धामी ने कहा कि उनके द्वारा तो सभी विधायकों से अंतरात्मा की आवाज सुनने और राजग उम्मीदवार के समर्थन में अपना वोट देने की अपील की गई थी ऐसे में जिस विधायक ने भी वोट दिया है उसका वह धन्यवाद अदा करते हैं. 

उत्तराखंड के अलावा बिहार में भी यशवंत सिन्हा के साथ बड़ा खेल हुआ है. राजद के कम से कम 6 से 8 विधायकों ने राष्ट्रपति चुनाव में क्रॉस वोटिंग की है. सोशल मीडिया पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने लिखा- राष्ट्रीय जनता दल के उन सभी 8 विधायकों को बहुत-बहुत आभार जिन्होंने यशवंत सिन्हा जी के आह्वान पर अपनी अंतरात्मा के कहने पर द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया है. बिहार में एक विधायक के वोट की वैल्यू 173 है. आरजेडी के 8 विधायकों के वोट वैल्यू निकाले तो 1384 वोट आरजेडी के विधायकों ने द्रौपदी मुर्मू को दी है. 

वैसे एनडीए के नेता पहले ही है दावा कर रहे रहे थे कि बिहार में दलगत भावना से ऊपर उठकर विधायक क्रॉस वोटिंग जरूर करेंगे. अब जो आंकड़े सामने आए हैं, वो इसकी पुष्टि भी कर देते हैं. इतने बड़े स्तर पर हुई क्रॉस वोटिंग पर राजद नेताओं ने चुप्पी साध ली है. हर कोई अभी के लिए सिर्फ मुर्मू को राष्ट्रपति बनने की बधाई दे रहा है. वैसे बिहार के अलावा पांच राज्य एमपी, गुजरात, असम, झारखंड और यूपी में सबसे ज्यादा क्रॉस वोटिंग देखने को मिली है. यहां भी असम में क्रॉस वोटिंग का आंकड़ा 22 निकला है तो मध्य प्रदेश में भी 19 क्रॉस वोट पड़े हैं.
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें