scorecardresearch
 

Monsoon session: उपसभापति ने आनंद शर्मा को बोलने से रोका, कांग्रेस सांसद बोले- चर्चा का मजाक न बनाएं

राज्यसभा में बुधवार को कोरोना पर चर्चा के दौरान विपक्ष के सांसदों ने हंगामा किया. कांग्रेस की अगुआई में विपक्षी सांसदों ने कम समय मिलने के कारण हंगामा किया. सांसदों ने कहा कि कोरोना जैसे गंभीर विषय पर चर्चा के लिए 2.30 घंटे काफी नहीं है. कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने कहा कि इतने कम समय में हम कैसे चर्चा करेंगे.

कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा (फाइल फोटो) कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राज्यसभा में कोरोना पर चर्चा
  • विपक्ष के सांसदों ने किया हंगामा
  • उपसभापति और कांग्रेस के सांसदों में बहस

राज्यसभा में बुधवार को कोरोना पर चर्चा के दौरान विपक्ष के सांसदों ने हंगामा किया. कांग्रेस की अगुआई में विपक्षी सांसदों ने कम समय मिलने के कारण हंगामा किया. सांसदों ने कहा कि कोरोना जैसे गंभीर विषय पर चर्चा के लिए 2.30 घंटे काफी नहीं है. कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने कहा कि इतने कम समय में हम कैसे चर्चा करेंगे. इस चर्चा का मजाक ना उड़ाएं. इसे गंभीरता से लिया जाए. 

हंगामा तब शुरू हुआ जब उपसभापति ने आनंद शर्मा को बोलने से रोका. दरअसल, आनंद शर्मा जब कोरोना पर अपनी बात रख रहे थे तो उसी दौरान उपसभापति ने समय को लेकर उन्हें टोका. उपसभापति ने कहा कि चर्चा के लिए 2.30 घंटे का समय दिया गया है और उसी हिसाब से सांसदों को बोलने का समय दिया गया है. 

इसपर आनंद शर्मा ने कहा कि ये तो गड़बड़ हो गया. इस दौरान बहस भी देखने को मिली. आनंद शर्मा ने कहा कि इतने कम समय में हम कैसे चर्चा करेंगे. कांग्रेस सांसद ने कहा कि इस चर्चा का मजाक न बनाएं. इसे गंभीरता से लिया जाए. इस दौरान टीएमसी सांसद ने नियम का हवाला दिया. इसपर उपसभापति ने कहा कि 2.30 घंटे का समय पहले ही दिया चुका है. आज चर्चा होगी और कल स्वास्थ्य मंत्री जवाब देंगे. इस दौरान उपसभापति और विपक्षी सांसदों के बीच बहस भी देखने को मिली. 

आनंद शर्मा का सरकार पर निशाना

कोरोना महामारी पर चर्चा के दौरान कांग्रेस के आनंद शर्मा ने सरकार पर जोरदार निशाना साधा. आनंद शर्मा ने कहा कि अचानक लगाए गए लॉकडाउन के कारण प्रवासी मजदूरों को नुकसान हुआ. कई मजदूरों की जान गई. वो बेरोजगार हुए. सरकार ने इसी सत्र में कहा कि प्रवासी मजदूरों की मौत की जानकारी नहीं है, इस वजह से कोई मुआवजा भी नहीं दिया जा रहा. कांग्रेस सांसद ने कहा कि ये देश के लिए दुर्भाग्य की बात है. सरकार के पास क्यों आंकड़े नहीं हैं. हर राज्य के पास आंकड़े हैं. मुआवजा दिया जाना चाहिए. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें