scorecardresearch
 

पेगासस जासूसी कांड पर संसद में चर्चा की मांग, साथ आए 14 विपक्षी दल, राहुल बोले- पीछे नहीं हटेंगे

बताया जा रहा है कि इसको लेकर 10 दलों की ओर से नोटिस दिया जाएगा, जिस पर राहुल गांधी का भी हस्ताक्षर होगा. अभी तक विपक्ष अलग-अलग मुद्दों पर बंटा हुआ था, लेकिन इस बैठक के बाद एक साथ पेगासस के मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी है. 

X
monsoon session opposition on pegasus issues monsoon session opposition on pegasus issues
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पेगासस जासूसी कांड को लेकर विपक्ष के तेवर तीखे
  • राहुल बोले- इस मुद्दे पर किसी तरह का समझौता नहीं

पेगासस जासूसी कांड को लेकर संसद में जोरदार हंगामा जारी है. विपक्ष की ओर से इस मुद्दे पर चर्चा की मांग की जा रही है. आज (28 जुलाई) सत्र की कार्यवाही से पहले विपक्षी दलों ने एक बैठक की. इस बैठक में 14 राजनीतिक दल शामिल हुए. विपक्ष दलों की बैठक में राहुल गांधी ने कहा कि पेगासस जासूसी कांड को लेकर किसी तरह का समझौता नहीं करेंगे. इस पर सरकार को जवाब देना ही होगा. 

बताया जा रहा है कि इसको लेकर 10 दलों की ओर से नोटिस दिया जाएगा, जिस पर राहुल गांधी का भी हस्ताक्षर होगा. अभी तक विपक्ष अलग-अलग मुद्दों पर बंटा हुआ था, लेकिन इस बैठक के बाद एक साथ पेगासस के मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी है. 

विपक्ष की बैठक में 14 दल शामिल हुए

INC, DMK, NCP, SS, RJD, SP, CPIM, CPI, NC, AAP, IUML, RSP, KCM, VCK

खड़गे बोले- पेगासस मामले पर चर्चा हो

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि हम चाहते हैं कि सदन चले और वहां पेगासस मामले पर चर्चा हो. पेगासस मामले की जांच कई देशों में हो रही हैं तो भाजपा इसकी जांच अपने देश में क्यों नहीं कर रही है? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह को इसकी जांच करवानी चाहिए.

बता दें कि पेगासस जासूसी कांड को लेकर विपक्ष के तेवर तीखे हैं, जिसके चलते अब तक संसद की कार्यवाही बाधित रही है. इस मामले में विपक्ष दलों के नेता प्रधानमंत्री और गृहमंत्री से जवाब मांग रहे हैं. संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव की ओर से इस मुद्दे पर जवाब दिया गया था, लेकिन विपक्ष पीएम और गृहमंत्री से जवाब की मांग पर अड़ा है. 

कांग्रेस पर नकवी का पलटवार

केंद्रीय मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस से अपना घर संभल नहीं रहा. आज भी अधिकांश विपक्ष के लोग चाहते हैं कि संसद चले, वाद-विवाद और चर्चा होनी चाहिए, लेकिन कांग्रेस अपने नकारात्मक फैसलों को विपक्ष पर थोपकर विपक्ष की अन्य पार्टियों की सकारात्मक सोच को भी बंधक बनाना चाहती है. 

इधर, विपक्षी पार्टियों द्वारा सदन में पेगासस मामले पर चर्चा की मांग पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि विपक्ष ने सदन में चर्चा के लिए तीन विषय (कोविड, किसानों का आंदोलन, बढ़ती महंगाई) तय किए थे. पहले इन तीन विषयों को पूरा होने दीजिए. ये जनता के मुद्दे हैं. 

  • क्या पेगासस जासूसी कांड की जांच की विपक्ष की मांग मानी जानी चाहिए?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें