scorecardresearch
 

'असम की जगह विधायकों को बंगाल भेजो, अच्छी खातिरदारी करेंगे' महाराष्ट्र संकट पर बोलीं ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि बागी विधायकों को असम की जगह बंगाल भेज देना चाहिए, उनकी अच्छी खातिरदारी की जाएगी.

X
सीएम ममता बनर्जी सीएम ममता बनर्जी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ममता बनर्जी का दावा- राष्ट्रपति चुनाव के लिए बीजेपी के पास नहीं नंबर
  • 'लोकतंत्र खतरे में, महाराष्ट्र के बाद दूसरी सरकारों को गिराने की कोशिश'

महाराष्ट्र में जारी सियासी नाटक के बीच बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बागी विधायकों पर तंज कसा है. उन्होंने कह दिया है कि असम की जगह बागी विधायकों को बंगाल भेज देना चाहिए, उनकी अच्छी खातिरदारी की जाएगी.

ममता कहती हैं कि महाराष्ट्र में अभी जो हो रहा है, वो हैरत में डालने वाला है. इन विधायकों को असम की जगह बंगाल भेज देना चाहिए, हम उनकी अच्छी खातिरदारी करेंगे. सीएम आगे कहती हैं कि भारत में अब लोकतंत्र काम भी करता है, इस पर शक है. कहां है लोकतंत्र? क्या ऐसे ही चुनी हुई सरकारों पर बुलडोजर चल जाएगा? हमे लोगों के लिए न्याय चाहिए, उद्धव ठाकरे के लिए न्याय चाहिए. इनका क्या है, अभी महाराष्ट्र में सरकार गिरा रहे हैं, फिर दूसरे राज्यों में भी कोशिश करेंगे.

इस समय कांग्रेस और कुछ दूसरे विपक्षी दल बीजेपी पर आरोप लगा रहे हैं कि राष्ट्रपति चुनाव की वजह से महाराष्ट्र में सरकार गिराने की कोशिश की जा रही है. अब इस पर ममता भी यहीं मानती हैं कि बीजेपी के पास नंबर ही नहीं है, उसी वजह से महाराष्ट्र में सरकार को अस्थिर करने के प्रयास किए जा रहे हैं.

ममता बनर्जी ने यहां तक आरोप लगा दिया कि इस समय केंद्र में बीजेपी की सरकार है, इसलिए उनके विधायकों, नेताओं पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही. वे कहती हैं कि मेरी पार्टी के 200 लोगों को सीबीआई-ईडी का नोटिस दे रखा है, लेकिन बीजेपी को कुछ नहीं होता. उनके पैसे का कोई हिसाब नहीं, क्या इसे हवाला नहीं कहेंगे? क्या ये एक घोटाला नहीं है कि केंद्र में बैठी पार्टी धड़ल्ले से विधायक खरीद रही है?

सीएम ने बीजेपी को चेतावनी दी है कि भविष्य में ऐसा समय भी आएगा जब वे सत्ता में नहीं रहेंगे, जब कोई दूसरा सरकार में होगा. उनका कहना है कि आज आप सत्ता में हैं तो पैसों के साथ खेल रहे हैं, जरा सोचिए जब आप सत्ता में नहीं होंगे, तब क्या होगा?

महाराष्ट्र सियासी संकट की बात करें तो अभी भी एकनाथ शिंदे बागी विधायकों के साथ गुवाहाटी में मौजूद हैं. उनकी तरफ से शक्ति प्रदर्शन भी कर दिया गया है. अभी उनके समर्थन में कुल 42 विधायक दिख रहे हैं, इसमें शिवसेना के 35 विधायक हैं और निर्दलीय 7 बताए जा रहे हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें