scorecardresearch
 

ओवैसी का योगी पर पलटवार- उनकी नस्लें तबाह हो जाएंगी पर हैदराबाद का नाम नहीं बदलेगा

बीजेपी के टिकट बंटवारे को लेकर ओवैसी ने निशाना साधते हुए कहा कि वो हमें सांप्रदायिक कहते हैं तो ये बताइए हमने हिंदुओंं को टिकट दिया है, अब बीजेपी बताए कि बीजेपी ने कितने मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया है. बीजेपी का लक्ष्य केवल हैदराबाद का नाम बदलना है. ये भाग्यनगर बनाम हैदराबाद है. मैं संविधान की शपथ लेता हूं और ये लोग मुझे जिन्ना कहते हैं.

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी.(फाइल फोटो) AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी.(फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी ने कितने मुस्लिमों को दिया टिकट: ओवैसी
  • सीएम योगी के बयान पर ओवैसी का पलटवार

हैदराबाद निकाय चुनाव को लेकर बीजेपी और एआईएमआईएम के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है. सीएम योगी के हैदाराबाद दौरे के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने पलटवार किया है. ओवैसी ने कहा कि जो शख्स हैदराबाद का नाम बदलना चाहता है उनकी नस्लें तबाह हो जाएगी लेकिन नाम नहीं बदलेगा. हम अली के नाम लेवा हैं हम तुम्हारा नाम तब्दील कर देंगे. मैं आप लोगों (वोटर्र्स) को वास्ता देता हूँ आप लोगों को जवाब देना होगा उन लोगों को जो शहर का नाम बदलना चाहते है.

बीजेपी पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा कि बीजेपी ने इस चुनाव में इतने लोगों को बुला लिया है, अब खाली डोनाल्ड ट्रंप का आना बाकी है.वो भी आ जाएं तो भी कुछ नहीं होगा.क्योंकि उसका भी हाथ थामकर पीएम मोदी ने कहा अबकी बार ट्रंप सरकार लेकिन वो भी गड्ढे में गिर गया. उन्होंने कहा कि ये लोग लाख जिन्ना जिन्ना कर लें. हमने जिन्ना की मोहब्बत को ठुकराया. जो रजाकार थे पाकिस्तान चले गए और जो वफादार थे वो हैदराबाद में रह गए.

योगी के हैदराबाद का नाम भाग्यनगर करने वाले बयान पर ओवैसी ने कहा कि बीजेपी का लक्ष्य हैदराबाद का नाम बदलना है. यह चुनाव भाग्यनगर बनाम हैदराबाद है. बीजेपी के टिकट बंटवारे को लेकर ओवैसी ने निशाना साधते हुए कहा कि, वो हमें सांप्रदायिक कहते हैं तो ये बताइए हमने हिंदुओंं को टिकट दिया है, अब बीजेपी बताए कि बीजेपी ने कितने मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया है. बीजेपी का लक्ष्य केवल हैदराबाद का नाम बदलना है. ये भाग्यनगर बनाम हैदराबाद है. मैं संविधान की शपथ लेता हूं और ये लोग मुझे जिन्ना कहते हैं.

योगी का बयान

दरअसल, हैदराबाद में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे योगी ने रोड शो के दौरान कहा कि '' हम सबको यह तय करना है कि एक परिवार और मित्र मंडली को लूट खसोट की आजादी देनी है या फिर हैदराबाद को भाग्यनगर बनाकर विकास की नई बुलंदियों पर ले जाना है. मित्रों ये आपको तय करना है.''

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कुछ लोग पूछ रहे थे कि क्या हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर किया जाएगा?  मैंने कहा- क्यों नहीं, बीजेपी के सत्ता में आने के बाद जब फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या हो गया, इलाहाबाद का नाम प्रयागराज हो गया तो फिर हैदराबाद का नाम भाग्यनगर क्यों नहीं हो सकता है.

शनिवार को हैदराबाद के मलकजगिरि में और शालीबंदा लाल दरवाजा के अलका थिएटर ग्राउंड में आयोजित जनसभा के दौरान योगी ने कहा कि, एआईएमआईएम के दो भाई हमेशा उलटा बोलते हैं और टीआरएस को एआईएमआईएम जैसे नमूने अराजकता फैलाने के लिए मिल गए हैं. उन्होंने कहा कि जब देश के सारे नेता सो रहे थे तो प्रधानमंत्री कोविड वैक्सिन के लिए अहमदाबाद ,हैदराबाद और पुणे की लैब का दौरा कर रहे थे. आपके बीच भी आए थे. टीआरएस के मुख्यमंत्री तो आज तक हैदराबाद की लैब में गए भी नहीं होंगे. 
उन्होंने टीआरएस और एआईएमआईएम पर भ्रष्टाचार सहित कई गंभीर आरोप लगाए.

देखें- आजतक LIVE TV

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें