scorecardresearch
 

सलमान खुर्शीद बोले- भारत को पाकिस्तान और तुर्की से सीख लेने की जरूरत नहीं

सलमान खुर्शीद ने कहा कि हमें पाकिस्तान और तुर्की से सीख लेने की जरूरत नहीं है. हमें किसी ऐसे विशेष देश से धर्म और पहचान के बीच अनावश्यक बहस का हिस्सा नहीं बनना चाहिए.

पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद (फाइल फोटो) पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • समझदार व्यक्ति आतंक के ऐसे कृत्य का समर्थन नहीं करेगा: सलमान खुर्शीद
  • पाकिस्तान और तुर्की से सीख लेने की जरूरत नहीं: पूर्व विदेश मंत्री
  • 'पाकिस्तान और तुर्की भारत के लिए अच्छे उदाहरण नहीं'

फ्रांस के चर्च में गुरुवार को हुए आतंकी हमले की भारत सहित कई देशों ने निंदा की है. कुछ ऐसे लोग भी हैं जो हमले का समर्थन कर रहे हैं. मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद उनमें से एक हैं. वहीं, अब पूर्व विदेश मंत्री और कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने ऐसे लोगों को कड़ा जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि कोई भी समझदार व्यक्ति आतंक के ऐसे कृत्य का समर्थन नहीं करेगा.

सलमान खुर्शीद ने ये भी कहा कि हमें पाकिस्तान और तुर्की से सीख लेने की जरूरत नहीं है. हमें किसी ऐसे विशेष देश से धर्म और पहचान के बीच अनावश्यक बहस का हिस्सा नहीं बनना चाहिए. कांग्रेस नेता ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि कोई भी वास्तव में यह कहेगा कि आतंक को खत्म करने के लिए उठाए जा रहे कदमों का हम समर्थन नहीं करते हैं.
 
पूर्व विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान और तुर्की भारत के लिए अच्छे उदाहरण नहीं हैं. भारत की सांस्कृतिक पहचान को देखने का एक बहुत ही संतुलित और सामंजस्यपूर्ण तरीका है. हमें किसी से भी सीखने की आवश्यकता नहीं है.

देखें: आजतक LIVE TV

उन्होंने कहा कि हमें सभी को सम्मान देना सीखना चाहिए. हम विशेष रूप से एक देश के रूप में बहुत चिंतित होंगे, अगर किसी भी विशेष चिह्न को नीचे दिखाया गया. भारत में लोग जिस तरह से प्रतिक्रिया दे रहे हैं उसे संभालना काफी मुश्किल है. समाज को विभाजित करने का प्रयास करना आसान है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें