scorecardresearch
 

राहुल गांधी बोले- कोरोना को नहीं समझ पाए हैं मोदी, जितना समय देंगे उतना खतरनाक बनेगा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोना समझ ही न आया है. राहुल ने कहा कि कोरोना सिर्फ एक बीमारी नहीं है, कोरोना एक बदलती हुई बीमारी है, वैक्सीन ही इसका स्थायी इलाज है.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो) कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो)

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना को लेकर केंद्र सरकार को फिर से आगाह किया है. शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोना समझ ही न आया है. राहुल ने कहा कि आजतक ये (पीएम मोदी) न समझ पाए हैं कि कोरोना सिर्फ एक बीमारी नहीं है, कोरोना एक बदलती हुई बीमारी है.

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, 'आप कोरोना को जितना समय देंगे, वह उतना खतरनाक होता जाएगा, मैंने प्रधानमंत्री से कहा था कि कोरोना को जगह मत दीजिए, दरवाजा बंद कीजिए, कोरोना सबसे पहले जिनके पास भोजन नहीं है, उन पर आक्रमण करता है, दूसरी तरफ जिनको बीमारियां हैं उन पर आक्रमण करता है और यह आहिस्ते-आहिस्ते बदलता है.'

'वैक्सीन से ही कोरोना को रोका जा सकता है'

कोरोना को रोकने का तरीका बताते हुए कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, 'इस महामारी को रोकने के तीन-चार तरीके हैं, उसमें से एक वैक्सीन स्थायी तरीका है, लॉकडाउन हथियार है मगर इससे लोगों को तकलीफ होती है, लॉकडाउन-सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क अस्थायी तरीका है, अगर वैक्सीन जल्दी नहीं की तो वायरस आपकी पकड़ से भाग जाएगा.'

'भारत में सिर्फ 3 फीसदी लोगों को लगी दोनों डोज'

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, 'अगर वायरस को हिंदुस्तान में रोकेंगे नहीं तो वह म्यूटेट करता जाएगा, वैक्सीन की रणनीति के बारे में मैंने प्रधानमंत्री को कई बार कहा कि अगर सही से नहीं हुआ तो एक या दो नहीं कई लहर आएगी, अभी स्थिति यह है कि देश के 3 फीसदी लोगों को वैक्सीन दी, यानी 97 फीसदी लोगों को कोरोना पकड़ सकता है.'

वैक्सीन कैपिटल होने के बावजूद वैक्सीनेशन सबसे धीमा

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, 'सरकार ने अभी भी दरवाजा खोला है, अमेरिका ने अपनी आधी आबादी को वैक्सीन लगा दिया, ब्राजील जैसे देश ने अपने 8 फीसदी लोगों को वैक्सीन लगा दिया, ब्राजील तो वैक्सीन कैपिटल भी नहीं है, हम वैक्सीन कैपिटल हैं, हम वैक्सीन बनाते हैं, देश में कोरोना की दूसरी लहर के लिए प्रधानमंत्री जिम्मेदार हैं.'

'प्रधानमंत्री की नौटंकी से आई दूसरी लहर'
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, 'प्रधानमंत्री ने जो नौटंकी की, अपनी जिम्मेदारी पूरी नहीं की, इसका कारण कोरोना की दूसरी लहर है, अगर कोरोना वैक्सीनेशन ऐसे ही चला तो मई, 2024 में पूरे हिंदुस्तान को वैक्सीन मिल पाएगी और फिर एक के बाद एक लहर आती जाएगी, वायरस लगातार म्यूटेट करेगा.' 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें