scorecardresearch
 

पेगासस: लखनऊ में अजय लल्लू हाउस अरेस्ट, पायलट ने जांच की मांग की

पेगासस जासूसी मामले (Pegasus phone hacking) पर कांग्रेस (Congress) ने केंद्र सरकार पर हमला तेज़ कर दिया है. गुरुवार को कांग्रेस देश के अलग-अलग हिस्सों में इस मसले पर विरोध प्रदर्शन कर रही है और राजभवनों तक मार्च किया जा रहा है.

कांग्रेस नेता सचिन पायलट (PTI) कांग्रेस नेता सचिन पायलट (PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पेगासस फोन हैकिंग मामले पर कांग्रेस का हल्ला बोल
  • सचिन पायलट ने केंद्र सरकार पर दागे सवाल

पेगासस जासूसी मामले (Pegasus phone hacking) पर कांग्रेस (Congress) ने केंद्र सरकार पर हमला तेज़ कर दिया है. गुरुवार को कांग्रेस देश के अलग-अलग हिस्सों में इस मसले पर विरोध प्रदर्शन कर रही है और राजभवनों तक मार्च किया जा रहा है.

लखनऊ में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को हाउस अरेस्ट कर लिया गया है. यहां विधायक आवास पर बड़ी संख्या में पुलिसबल मौजूद है. 

इससे इतर बुधवार को कांग्रेस नेता और राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने केंद्र से सवाल किया कि जब फ्रांस में इस मामले की जांच हो सकती है, तो भारत में क्यों नहीं हो सकती. 

केंद्र सरकार पर बरसे सचिन पायलट

कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा कि कांग्रेस की मांग है कि जासूसी मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट जज द्वारा हो. एक विदेशी कंपनी के माध्यम से मैलवेयर सॉफ्टवेयर से बहुत से लोगों का फोन हैक करके गैर कानूनी तरीके से जानकारियां जुटाई गई हैं. कांग्रेस पार्टी ने इस मुद्दे को संसद में भी उठाया है, पेगासस स्पाइवेयर द्वारा जासूसी करवाने का मामला बहुत बड़ा मामला है. यह केवल जासूसी के बारे में नहीं है. 

कांग्रेस नेता ने कहा कि आज मेरा फोन हैक हुआ है कल आपका हो सकता है. हमने तो मुद्दा संस्थागत बनाया है. इसमें बीजेपी और कांग्रेस वाली बात नहीं है, जब फ्रांस में जांच बैठा दी गई है तो यहां क्यों नहीं? हमारी पार्टी मांग करती है कि इस मामले की जांच एक सुप्रीम कोर्ट जज द्वारा की जानी चाहिए. 

प्रताप सिंह खाचरियावास ने संघ पर बोला हमला

राजस्थान सरकार के कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि लोग जासूसी मसले पर आरएसएस का रुख जानना चाहते हैं. आरएसएस कोरोना के कारण हुई मौतों, अर्थव्यवस्था और बेरोजगार हुए लोगों को लेकर बात करने की बजाय हिंदू-मुस्लिम में ध्रुवीकरण करने की कोशिश कर रहा है. उन्होंने कहा कि 1947 से पहले हिंदुओं और मुसलमानों ने देश की आजादी के लिए एकजुट होकर लड़ा. अब्दुल कलाम जैसे लोगों ने महात्मा गांधी के साथ मिलकर देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी और आरएसएस इस तरह से बात करके ध्रुवीकरण करना चाह रहा है. मोहन भागवत के गुवाहाटी में कहा था कि साल 1930 से योजनाबद्ध तरीके से मुसलमानों की जनसंख्या बढ़ाने के प्रयास किए गए. इसे लेकर खाचरियावास ने संघ पर हमला बोला.

केंद्र के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल

कांग्रेस पार्टी द्वारा पेगासस जासूसी मामले को संसद से सड़क तक उठाया जा रहा है. संसद के मॉनसून सत्र में कांग्रेस समेत समूचा विपक्ष इस मसले को उठा रहा है. बता दें कि हाल ही में अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि पेगासस सॉफ्टवेयर के जरिए भारत में राहुल गांधी, प्रशांत किशोर समेत कई राजनेताओं, पत्रकारों, संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों, केंद्रीय मंत्रियों की जासूसी करवाई गई थी.  
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें