scorecardresearch
 

शकुनि का नहीं...ये कृष्ण, सुदामा, बलदाऊ, गरीबनवाज का बजट: सुधांशु त्रिवेदी

बीजेपी सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि इस बजट में कृष्ण के लिए भी कुछ है, सुदामा के लिए भी कुछ है, बलदाऊ के लिए भी कुछ है जिन्हें हलधर भी कहा जाता है.

सुधांशु त्रिवेदी (Photo:File) सुधांशु त्रिवेदी (Photo:File)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'बजट में मणि माणिक्य महंगे किए'
  • 'महाभारत कराने को फेंके जा रहे पासे'
  • परम वैभव लाने वाला है ये बजट- सुधांशु त्रिवेदी

राज्यसभा में बजट पर चर्चा के दौरान उत्तर प्रदेश से भाजपा सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने विपक्ष के आरोपों का करारा जवाब दिया. उन्होंने सरकार के बजट को ‘गरीब नवाज’ का बजट कहा. सुधांशु त्रिवेदी ने बजट चर्चा पर राज्यसभा में कहा कि बार-बार कहा जा रहा है कि ये बजट अमीरों के लिए है. लेकिन हमने बजट में रत्नों पर 7.5% से 15% पर अप्रत्यक्ष कर को बढ़ाया है और साथ में 2.5% का कृषि इन्फ्रा सेस भी लगाया है.

राज्यसभा में सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि सोने और चांदी पर भी 2.5% का सेस लगाया गया है. तो क्या ये अमीरों के लिए है. उन्होंने कहा कि मैं बता देता हूं कि हमें प्रेरणा कहां मिलती है. इसके बाद उन्होंने तुलसी दास की इन पक्तियों को सुनाया, ‘मणि माणिक महंगे किए, सहजे तृण जल नाज, तुलसी सोइ जानिए राम गरीब नवाज’ 

महाभारत कराने के लिए फेंके जा रहे पासे

सुधांशु त्रिवेदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि इस बजट में कृष्ण के लिए भी कुछ है, सुदामा के लिए भी कुछ है, बलदाऊ के लिए भी कुछ है जिन्हें हलधर भी कहा जाता है. इस बजट में, एकलव्य के लिए भी कुछ है, हमारे पितामह  भीष्म और द्रोण के लिए भी कुछ ना कुछ है. माननीय वित्त मंत्री से बस एक त्रुटि हो गई कि इस बजट में शकुनि के लिए कुछ नहीं छोड़ा, इसलिए महाभारत कराने के लिए पासे फेंके जा रहे.

हमने किया WTO का बैरियर पार

बीजेपी नेता ने कहा कि 2013 में हम पर WTO ने किस तरह का शिकंजा कसा था. अगर उन सिफारिशों को मान लिया जाता तो हम 2017 के बाद कई तरह की सब्सिडी नहीं दे पाते. लेकिन हमारी सरकार WTO के बैरियर तोड़कर किसानों के साथ खड़ी थी.

परम वैभव लाने वाला बजट

बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी ने अपने भाषण के अंत में कहा कि ये बजट वहीं ले जाने वाला है जिसके बारे में हम रोज कहते हैं. यह बजट देश को ‘परम वैभवम नेतु मेतत स्वराष्ट्रं’ बनाने वाला है. 

ये भी पढ़ें:

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें